News

जयपुर में 156.57 करोड़ काला धन बरामद

नई दिल्ली (12 दिसंबर): कतार में खड़ी जनता दो दो हज़ार के लिए तरस रही है और धनकुबेरों के पास एक, दो करोड़ नहीं बल्कि सौ करोड़ से ऊपर की दौलत बरस रही हैं। आयकर विभाग ने पिंक सिटी जयपुर में एक अरबन कोपरेटिव बैंक में छापा मारकर वहां से 156.57 करोड़ की अवैध संपत्ति बरामद किया है।

हैरानी की बात ये है कि इसमें से 1 करोड़ 30 लाख रुपये की नई करेंसी है और ज़्यादातर नोट 2 हजार के हैं। नोटबंदी के बाद देश भर में पड़ रहे छापे में मिली ये संपत्ति सबसे बड़ी है। बताया जा रहा है कि इस में FD, लॉकर, कैश सभी शामिल हैं। आयकर विभाग का ये छापा जयपुर स्थित विल्फ्रेड एजुकेशन सोसायटी द्वारा संचालित अरबन कोपरेटिव बैंक में सोमवार सुबह मारा गया। बताया जा रहा है कि ये पूरी रकम अघोषित है यानि जिसका कोई लेखाजोखा नहीं है, जिसका कोई रिकॉर्ड नहीं है।

विल्फ्रेड एजुकेशन सोसायटी का नेटवर्क देश के कई राज्यों में फैला है। विल्फ्रेड एजुकेशन सोसायटी जयपुर, अजमेर और मुंबई में कई एजुकेशन इंस्टीट्यूट संचालित करती है। इसके अलावा जयपुर में वो अरबन कोपरेटिव बैंक का संचालन भी करती है। इसी प्रिमिसेज़ में बैंक है, दफ्तर है। हालांकि आयकर विभाग ने अभी तक इससे जुड़े लोगों का खुलासा नहीं किया है। इतनी बड़ी बरामदगी के बाद आयकर विभाग अब एजुकेशन सोसायटी के दूसरे ठिकानों पर भी छापेमारी की तैयारी कर रही है। साथ में उन लोगों को भी तलाश रही है जिन्हें वेल्फेयर के नाम पर इनती बड़ी हेराफेरी की है।

आपको बता दें कि आयकर विभाग लगातार अवैध धन के खिलाफ देशभर में बड़ा अभियान चला रहा है, जिसके बाद से हजारों करोड़ की अघोषित रकम बरामद की जा चुकी है। चेन्नई के बाद ये दूसरा सबसे बड़ा छापा है। आयकर विभाग की टीम ने चार दिन पहले चेन्नई स्थित खनन कारोबारी के ठिकानों पर छापा मारकर 93 करोड़ रुपये की रकम बरामद की थी, इसमें से काफी मात्रा नए नोटों की थी।


Related Story

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top