News

न्यूज 24 एक्सक्लूसिव: चांदनी चौक में चलता था ISI का बहीखाता

महेश पांडे, भोपाल (1 अगस्त): भारत में पाकिस्तानी आतंकियों के स्लीपर सेल का चक्रव्यूह चटखने लगा तो पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI ने गद्दारों की भर्ती का नया प्लान तैयार कर लिया। ISI ने भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाले कपड़ा कारोबार में आतंक का अर्थशास्त्र छिपा दिया, जिसका बहीखाता भोपाल से लेकर चांदनी चौक तक चलता था।

न्यूज 24 की ये एक्सक्लूसिव रिपोर्ट जानकर आपकी आंखें खुली की खुली रह जाएंगे, दिमाग चकरा जाएगा और एक बारगी यकीन नहीं होगा। आतंकी देश में सिर्फ स्लीपर सेल ही नहीं बना रहे बल्कि बिजनेसमैन भी तैयार कर रहे हैं। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI भारत में स्टार्टअप को प्रमोट कर रही है। नए धंधे खोलने के लिए आतंकी फंड मुहैया करा रहे हैं।

ये बात और है कि इसके पीछे पाकिस्तान में बैठे आतंक के आकाओं का मकसद बेहद घिनौना है। आतंकी अपने एजेंट्स को हिंदुस्तान में सैटेल करवा रहे हैं। खासकर कपड़ा कारोबार में और बदले में वो इंडिया में ISI के बहीखाते चलाते हैं। आतंकियों की मदद करते हैं। पत्थरबाजों को पत्थर फेंकने के लिए रकम देते हैं।

आतंकियों का 'बिजनेस प्लान'... - मध्य प्रदेश ATS ने ISI की साजिश का पर्दाफाश किया है - ISI मध्य प्रदेश में जासूसी नेटवर्क चलाने के लिए कारोबारी सौदेबाजी कर रही है - आईएसआई एजेंटों को हवाला के जरिए मोटी रकम फायनेंस कराकर कारपोरेट कारोबार की नींव रख रही है

एमपी एटीएस ने खुलासा किया है कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी भारत में कारोबार जमाने के लिए मदद करके जासूसी करने वाले एजेंटों की ग्रास रूट तैयार कर रही है। मध्य प्रदेश के कई छोटे शहर और कस्बों तक आईएसआई का नेटवर्क फैल चुका है, जहां से पाकिस्तान में धड़ल्ले से संदिग्ध लेनदेन किया जा रहा है। मध्यप्रदेश के खण्ड़वा, बड़वानी, धार और बुरहानपुर जैसे छोटे शहरों में जांच एजेंसियों की रडार पर बड़ा जासूसी नेटवर्क आया है।

पाकिस्तान से मोटी रकम के संदिग्ध ट्रांजिक्सन को जांच खंगाला गया तो जांच एजेंसियां भी सन्न रह गईं। आईएसआई के ये मोहरे सिर्फ आतंकियों के नेटवर्क तक पैसा ही मुहैया नहीं करा रहे बल्कि देश के चप्पे-चप्पे की संवेदनशील जानकारी दुश्मन तक पहुंचा रहे हैं। जांच एजेंसियों ने जब कड़ियां जोड़ना शुरू कीं तो आतंक के बिजनेस प्लान का हेड ऑफिस दिल्ली के चांदनी चौक में मिला।

पिछले दिनों में देश के चप्पे चप्पे से आईएसआई के एजेंटों और स्लीपर सेल की धरपकड़ के बाद देश में आतंक का नेटवर्क ध्वस्त होने लगा था। ऐसे में हिंदुस्तान में गद्दार खोजकर आईएसआई अपने खूनी मंसूबों को हकीकत करने का सपना देख रहा है।

 


Related Story

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top