News

कंधार विमान हाइजैक को लेकर डोभाल ने किया बड़ा खुलासा

नई दिल्ली(15 जनवरी): राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने 1999 में इंडियन एयरलाइंस की फ्लाइट IC-814 के हाइजैक को लेकर बड़ा खुलासा किया है। डोभाल के मुताबिक हाइजैकर्स को पाकिस्तानी की खुफिया एजेंसी आईएसआई का समर्थन था।

- उन्‍होंने बताया कि आईएसआई के समर्थन की वजह से ही बंधक संकट काफी लंबे वक्‍त तक खींचा।

-  इंडियन एयरलाइंस की फ्लाइट IC-814 को तब हाइजैक कर लिया गया था जब वह काठमांडो से दिल्‍ली के लिए रवाना हुई थी। हाइजैक करने के बाद इसे अफगानिस्‍तान के कंधार ले जाया गया था।

- इस संकट को खत्‍म करने और बंधकों को छुड़ाने के लिए बातचीत करने वालों में डोभाल भी शामिल थे। इस घटना के बारे में अब न्‍यूज एजेंसी रॉयटर्स की पूर्व इंडिया ब्‍यूरो चीफ मायरा मैकडॉनल्‍ड ने 'डिफीट इज ऐन ऑर्फन: हाउ पाकिस्‍तान लॉस्‍ट द ग्रेट साउथ एशियन वॉर' नाम से एक किताब लिखी है। डोभाल के कॉमेंट्स इसी किताब का हिस्‍सा हैं।

- डोभाल ने बताया कि विमान के पास बहुत सारे आतंकी थे और उनके पास हथियार थे। जब आतंकियों से बातचीत करने वाली टीम मौके पर पहुंची तो उसे एक अन्‍य चीज के बारे में पता चला। यह चीज थी मामले में आईएसआई की दखलअंदाजी।

- डोभाल ने कहा कि विमान के पास आईएसआई के दो लोग खड़े थे। जल्‍द ही कई और वहां आ गए। उनमें से एक लेफ्टिनेंट कर्नल और दूसरा मेजर था। उन्‍होंने पाकिस्‍तान में काम करते हुए कई साल बिताए थे। चीजें तब और खराब हो गईं जब भारतीय अधिकारियों को मालूम हुआ कि हाइजैकर्स सीधे आईएसआई अधिकारियों से बात कर रहे थे। वहां पर जो कुछ भी हो रहा था, उसके बारे में हमें जानकारी मिल रही थी। अगर इन लोगों को आईएसआई की तरफ से प्रत्‍यक्ष सपॉर्ट नहीं मिल रहा होता तो हमने बंधक संकट को खत्‍म कर दिया होता।

- डोभाल ने किताब में लिखा कि हमने हाइजैकर्स पर जो भी दबाव बनाया था, आईएसआई ने उसे खत्‍म कर दिया।' बता दें कि यह बंधक संकट तब खत्‍म हुआ था जब भारत ने तीन आतंकवादियों मसूद अजहर, अहमद उमर सईद शेख और मुस्‍ताक जरगार को रिहा किया था। डोभाल ने इन तीनों को आईएसआई समर्थ‍ित आतंकवादी करार दिया।


Related Story

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top