News

राजपथ से सेना ने दुनिया का दिखाया अदम्य साहस, परेड में क्या हुआ खास

उत्तर से लेकर दक्षिण तक, पूरब से लेकर पश्चिम तक गणतंत्र दिवस की धूम है. एक बार फिर पूरी दुनिया राजपथ से हिंदुस्तान की ताकत और संस्कृति देख रही है. क्या खास है इस परेड में, पिछले साल से कैसे अलग यह समारोह

Rajpath, राजपथ

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली(26 जनवरी): देश में दिल्ली से लेकर जम्मू-कश्मीर और कन्या कुमारी तक लोग गणतंत्र दिवस को धूमधाम के साथ मना रहे हैं। हर जगह शहीदों को याद कर श्रद्धांजलि अर्पित की जा रही है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और पीएम नरेंद्र मोदी भी शहीदों को श्रद्धाजंलि अर्पति कर चुके हैं। गणतंत्र दिवस पर पूरी दुनिया राजपथ से भारत की ताकत और संस्कृति देख रही है। क्या खास है इस परेड में, पिछले साल से कैसे अलग यह समारोह।

दरअसल, एक ऐसा त्योहार जो किसी धर्म, जाति या क्षेत्र से जुड़ा नहीं है, बल्कि जिसे पूरा हिंदुस्तान मिलकर मनाता है, भारत की एकता और अखंडता का प्रतीक, जहां दुनिया हिंदुस्तान की ताकत देखती है। इस बार गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि ब्राजील के राष्ट्रपति जैर बोल्सनारो हैं. गणतंत्र दिवस के मौके पर तीसरी बार ब्राजील के राष्ट्राध्यक्ष मुख्य अतिथि के तौर पर आए हैं. इससे पहले 1996 और 2004 में भी ब्राजील के राष्ट्रपति भारतीय गणतंत्र दिवस में बतौर मुख्य अथिति शिरकत की।

गणतंत्र दिवस के समारोह में इस बार नरेंद्र मोदी ने पिछले साल तैयार नेशनल वॉर मेमोरियल जाकर जवानों को श्रद्धांजलि दीॉ।. नेशनल वॉर मेमोरियल में अब तक हुए युद्ध में देश के नाम पर जान न्यौछावर करने वाले शहीद जवानों के नाम लिखे हुए हैं। ये पहला मौका होगा जब शहीदों को श्रद्धांजलि अमर जवान ज्योति की बजाय नेशनल वॉर मेमोरियल में दी है।

1973 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने इंडिया गेट पर स्थित अमर जवान ज्योति पर सैनिकों को श्रद्धांजलि देने की परंपरा शुरू की थी, जो पिछले साल तक चली आ रही थी। अमर जवान ज्योति 1971 में पाकिस्तान से युद्ध में शहीद जवानों के लिए तैयार की गई थी। इतना ही नहीं इस बार हिंदुस्तान की ताकत में चार चांद लगाने वाले नए हथियार भी गणतंतत्र दिवस की परेड में नजर आई, वायुसेना में हाल में शामिल किए गए लड़ाकू हेलिकॉप्टर अपाचे और परिवहन हेलीकॉप्टर चिनूक 26 जनवरी के मौके पर फ्लाईपास्ट में पहली बार नजर आया।

देश में बनी तोप धनुष को भी पहली बार दुनिया के सामने दिखाई गईं. पिछले हफ्ते इन तोप का पहला बैच सेना में शामिल हो गया था। 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस की परेड में सीआरपीएफ की महिला बाइकर्स शुरुआत की और डेयरडेविल स्टंट से सबको हैरत में डाल दिया। राजपथ पर ऐसा पहली बार हुआ जब महिला बाइकर्स परेड में स्टंट करते हुए नजर आईं, 65 सदस्यों की ये टीम 350cc रॉयल एनफील्ड बुलेट मोटरसाइकिल पर अपने कलाबाजी कौशल से सबको चौंका दिया।

इसके अलावा भारत की जल थल और वायु सेना ने भी अपना दम दिखाया, दिल्ली के इंडिया गेट पर 22 कमाल की झांकियां निकाली गईं। 90 मिनट की खास गणतंत्र दिवस परेड में हिंदुस्तान की ताकत के साथ संस्कृति और सभ्यता की झलक देखने को मिली।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top