News

बलूच नेता का दावा- 'ISI के कहने पर मुल्ला उमर ने किया था कुलभूषण को अगवा'

नई दिल्ली (20 जनवरी): बलूच कार्यकर्ता मामा कदीर का दावा है कि पाकिस्तान में कारावास की यातना झेल रहे भारतीय कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान की खुफिया संस्था आईएसआई के इशारे पर ईरान के चाबहार से अगवा किया था।

एक निजी न्‍यूज चैनल को दिए इंटरव्‍यू में कदीर ने दावा कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेज इंटेलीजेंस (आईएसआई) के लिए काम करने वाले मुल्ला उमर बलूच ईरानी ने जाधव को ईरान के चाबहार से अगवा किया था। 

कदीर के मुताबिक बलूचिस्तान में आईएसआई के लिए काम करने वाले मुल्ला उमर बलूच इरानी ने चाबहार से कुलभूषण का अपहरण किया। कदीर ने 'वॉइस ऑफ मिसिंग बलोच्स' संगठन के एक ऐक्टिविस्ट के हवाले से यह दावा किया है। कदीर इस संगठन के उपाध्यक्ष हैं। कदीर के मुताबिक संगठन का ऐक्टिविस्ट कुलभूषण के अपहरण का चश्मदीद है। कदीर ने कहा कि इस काम के लिए आईएसआई ने मुल्ला उमर को करोड़ों रुपये का भुगतान भी किया है।

कादिर बलूच दावा किया कि ISI के कहने पर आतंकी मुल्ला उमर ने कुलभूषण को ईरान से अगवा किया और इसके लिए ISI ने 4-5 करोड़ रुपए खर्च किए। कादिर बलूच बलूचिस्तान में वॉयस आफ मिसिंग बलूच के नाम से एक संस्था चलाते हैं। कादिर बलूच ने आगे कहा ‘ये सारी चीज़े वहां के इलाके के लोगों ने देखी... हमारे कॉडिनेटर ने देखा और हमें बताया. कुलभूषण के आंखो पर पट्टी बंधी थी।


Top