News

गर्मी में हो सकती हैं ये बीमारियां, इनसे ऐसे बचें

नई दिल्ली ( 4 अप्रैल ): इस साल मार्च में ही देशभर में गर्मी रिकाॅर्ड तोड़ रही है और देश के कई राज्य लू की चपेट में हैं। पिछले कुछ दिनों से पारा 40 पार कर गया है। देश की राजधानी दिल्ली से लेकर महाराष्ट्र, यूपी, राजस्थान, हरियाणा और मध्य प्रदेश में पारा दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। मौसम विभाग का अनुमान है कि इस बार गर्मी 6 साल का रिकॉर्ड तोड़ देगी। ऐसे में ये जानना जरूरी है कि इस भयंकर तपा देने वाली गर्मी में कौन-कौन सी बीमारियां हो सकती हैं और आपको इनसे कैसे बचना है।

-यूके बेस्ट नेशनल हेल्थ सर्विस के अनुसार हाई टेम्प्रेचर होने पर हीट स्ट्रोक और हीट इग्ज़ॉस्चन दो मेजर रिस्क होते हैं।

-लगातार हाई टेम्प्रेचर में रहने से लगातार बॉडी का टेम्प्रेचर बढ़ता रहा है जिससे हीट क्रैम्प्स और जी मिचलाने जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

-तेज गर्मी में ब्लड प्रेशर हाई हो जाता है जो कि हार्ट के लिए नुकसानदायक है।

-शरीर में पानी की कमी यानि डिहाइड्रेशन हो सकता है जिससे चक्कर आना, जी मिचलाना और सिरदर्द की शिकायत हो सकती है।

अचानक से गर्मी बढ़ने पर होते हैं ये नुकसान

-एक रिपोर्ट के अनुसार अचानक गर्मी बढ़ने से हेल्थ पर सीधा असर पड़ता है। मौसम बदलने और अचानक गर्मी बढ़ने से दिन गर्म हो जाते हैं, हृयूमिडिटी बढ़ जाती है और गर्म हवाएं तेज चलने लगती हैं। गर्मी एक्ट्रीम होने पर हीट स्ट्रोक के साथ ही क्रोनिक हार्ट डिजीज होने लगती हैं।

-तेज गर्मी बढ़ने से सिर्फ घर के बाहर रहने वाले लोगों पर ही नहीं बल्कि युग चिल्ड्रंस, ओल्डर एडल्ट्स और ऐसे लोग जो रेगुलर मेडिसिन ले रहे हैं उन पर भी इफेक्ट पड़ता है क्योंकि ऐसे लोग अपने बॉडी टेम्प्रेचर को रेगुलेट नहीं कर पाते।

-बहुत ज्यादा हीट होने से एयर क्वालिटी, एयर पॉल्‍यूशन भी इफेक्ट होता है। हीट बढ़ने से संक्रामक रोगों का प्रसार बहुत होता है। तेज गर्मी में मच्छर भी बहुत पनपते हैं। ऐसे में डेंगू फीवर, चिकनगुनिया, मलेरिया वायरस बहुत तेजी से फैलते हैं।

-फूड बोर्न प्रॉब्लम्स जैसे फूड प्वॉइजनिंग हो सकती है। दरअसल, गर्मियों में फूड जल्दी खराब हो जाते हैं। फूड में जल्दी ही जर्म्स और बैक्टीरिया की वजह से फूड खराब हो जाता है।

-मेंटल हेल्थ- शोधकर्ताओं के मुताबिक, गर्मी बढ़ने से लोगों की मेंटर हेल्थ पर बहुत फर्क पड़ता है। इसकी वजह से डिप्रेशन, एंजाइटी, पोस्ट ट्रॉमैटिक स्ट्रेस डिस्ऑर्डर तक हो जाता है।

-इसके अलावा गर्मिेयों चिकनपॉक्स, खसरा, पीलिया, थॉयराइड जैसी गंभीर बीमारियां बढ़ जाती हैं।

कैसे बचें चिलचिलाती गर्मी से

-सबसे बेहतर उपाय है घर के अंदर ही रहें।

ऐसे बचें चिलचिलाती गर्मी से-

-सबसे बेहतर उपाय है घर के अंदर ही रहें। 11 से 4 बजे के बीच सन एक्सपोजर से बचें।

-एयरकंडीशन और कूलर्स चलाकर रखें।

-अगर घर से बाहर जाना पड़ता है तो कैप लगाकर रखें। ढीले कपड़े पहनें। ये आपको सन स्ट्रोक से बचाएगा।

-लिक्विड चीजें लें और खूब सारा पानी पीएं। घर पर हैं तो फ्रूट जूस लें, ठंडा मिल्क स्मूदी लें।

-ट्रिप या वैकेशन पर जा रहे हैं तो अपने साथ बेसिक मेडिसिंस रखें।


Related Story

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top