News

गुड़गांव: नमाज़ पढ़कर लौट रहे युवक से बदसलूकी, जय श्रीराम न बोलने पर पीटा

राजधानी दिल्ली से सटे गुडगाँव के सदर बाजार एरिया में शनिवार देर रात मस्जिद से लौट रहे युवक की कुछ बदमाशों ने बुरी तरह से धुनाई कर दी। पीड़ित का आरोप है कि उसका रास्ता रोककर टोपी उतारकर चलने को क

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (27 मई): राजधानी दिल्ली से सटे गुडगाँव के सदर बाजार एरिया में शनिवार देर रात मस्जिद से लौट रहे युवक की कुछ बदमाशों ने बुरी तरह से धुनाई कर दी। पीड़ित का आरोप है कि उसका रास्ता रोककर टोपी उतारकर चलने को कहा गया। इसके अलावा बदमाशों ने उसे कथित तौर पर जय श्रीराम और भारत माता की जय बोलने को कहा। इसका विरोध करने पर युवकों ने शख्स की पिटाई कर दी और टोपी उतारकर फेंक दी।

पीड़ित जब तक कांपने नहीं लगे, तब तक आरोपी उसे पीटते रहे। आरोपियों के जाने के बाद उन्होंने मस्जिद में और घरवालों को फोन किया। इसके बाद उसे पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया। प्राथमिक उपचार के बाद रविवार को सिविल अस्पताल में मेडिकल जांच की गई। पुलिस आसपास के एरिया से सीसीटीवी खंगालकर आरोपियों का पता लगा रही है।

पीड़ित युवक मोहम्मद बरकत आलम ने बताया कि शनिवार रात सवा 10 बजे वह मस्जिद से आ रहे थे। इस दौरान उन्हें छह युवक मिले, जो श्याम स्वीट्स के पास खड़े थे। इनमें चार बाइक पर और दो युवक पैदल थे। सभी ने शराब पी रखी थी। इनमें से एक युवक ने कहा कि यह एरिया टोपी पहनकर चलने का नहीं है। वह टोपी उतारकर चलें। इसी बात पर युवकों ने मारपीट शुरू कर दी। उन्हें थप्पड़ और घूसे मारे गए। पीड़ित का आरोप है कि युवकों ने उसे जय श्रीराम और भारत माता की जय के नारे लगाने को कहा। जब उन्होंने ऐसा नहीं किया तो बदमाशों ने उसके साथ गाली-गलौज की।

बदमाशों ने पीड़ित का कुर्ता फाड़ दिया। आलम ने बताया कि उनके धर्म को लेकर भी अपशब्द कहे गए। एक युवक ने उनके सिर से टोपी उतारकर रोड पर फेंक दी। जब वह रोते हुए कांपने लगे और रोड पर बैठ गए तो युवक वहां से चले गए। चार युवक बाइक पर और दो पैदल चले गए। उन्होंने मदद के लिए वहां पर सफाई कर रहे युवकों से मदद की गुहार की, लेकिन वे नहीं आए। इसके बाद मस्जिद में फोन करके लोगों को बुलाया। जब तक लोग मदद के लिए आए तो वे लोग जा चुके थे। इसके बाद उन्हें पास के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। तड़के सुबह तीन बजे उसे हॉस्पिटल से डिस्चार्ज किया गया। पुलिस ने हॉस्पिटल में ही उसके बयान लिए।

आलम ने बताया कि रोजा के चलते वह भूखे थे। उनकी तबीयत भी खराब थी। उन्होंने सोचा कि नमाज के बाद रात को ही खाना खाएंगे। 15 दिन पहले ही वह बिहार से अपने भाई के पास सिलाई का काम सीखने आए हैं। वह रात होने के कारण बाइक का नंबर नहीं देख पाए। पीड़ित ने बताया कि आरोपियों के सामने आने पर वह उनको पहचान लेंगे। पुलिस ने सदर बाजार में कई जगह पर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले हैं। एक जगह बाइक पर युवक दिख भी रहे हैं। सोमवार को पुलिस बाजार खुलने के बाद सभी एरिया की फुटेज खंगालेगी। इस वारदात के रात को सूचना मिलने के बाद एसीपी सिटी अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे थे। पुलिस ने कुछ फुटेज रविवार को देखे हैं।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top