News

गौरव चंदेल हत्याकांड: पुलिस ने एक महिला समेत 2 लोगों को किया गिरफ्तार

ग्रेटर नोएडा में गौरव चंदेल हत्याकांड में पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। नोएडा और हापुड़ पुलिस की संयुक्त टीम ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। जिसमें 25 हजार का इनामी बदमाश उमेश भी है। उमेश बुलंदशहर के रायपुर का रहने वाला है। इसे हापुड़ के धौलाना से गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तारी के बाद आरोपी ने एक पुलिसकर्मी की रिवाल्वर छीनकर भागने की कोशिश की

Gaurav Chandel

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (27 जनवरी): ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) में गौरव चंदेल (Gaurav Chandel) हत्याकांड (Murder Case) में पुलिस (Police) को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। नोएडा और हापुड़ पुलिस की संयुक्त टीम ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। जिसमें 25 हजार का इनामी बदमाश उमेश भी है। उमेश बुलंदशहर के रायपुर का रहने वाला है। इसे हापुड़ के धौलाना से गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तारी के बाद आरोपी ने एक पुलिसकर्मी की रिवाल्वर छीनकर भागने की कोशिश की, लेकिन पुलिस की जवाबी कार्रवाई में आरोपी के पैर में गोली लगने से वो घायल हो गया, उसके बाद उसे दोबारा गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं इस मामले में पुलिस ने एक महिला को भी गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है ये दोनों मिर्ची गैंग के बदमाश हैं। ये गैंग कारजैकिंग, लूट, फिरौती, हत्या की वारदातों को अंजाम देता है। पुलिस गिरफ्तार हुए दोनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

सूत्रों के मुताबिक हापुड़ पुलिस ने उमेश को धौलाना क्षेत्र से पकड़ा है। हापुड़ में कुछ माह पहले भाजपा नेता समेत दो लोगों की हत्या के मामले में हापुड़ पुलिस उमेश की तलाश कर रही थी। भाजपा नेता हत्याकांड में पकड़े गए उमेश ने ही पूछताछ के दौरान गौरव चंदेल हत्याकांड का भी खुलासा किया है। उमेश के साथ साथ पुलिस ने आशू की पत्नी को भी हिरासत में लिया है। सूत्रों के मुताबिक एक अवैध पिस्टल बरामद की है। पुलिस के हाथ अब भी आशू नहीं लगा है। जिसकी तलाश में हापुड़ पुलिस कई जगह छापेमारी कर रही है। उसकी गिरफ्तारी के बाद पुलिस गौरव चंदेल हत्याकांड का अधिकारिक रूप से खुलासा करने की तैयारी में है।

Gaurav Chandel

आपको बता दें नोएडा के बिसरख थाना इलाके में 6 जनवरी 2020 की रात गौरव चंदेल की हत्या कर दी गई थी। कानपुर निवासी गौरव चंदेल नोएडा की गौर सिटी में पत्नी, बेटे व मां के साथ रहते थे। छह जनवरी की रात गौरव गुरुग्राम स्थित कंपनी से घर लौट रहे थे। रात करीब 10:22 बजे उनकी पत्नी प्रीति से आखिरी बार बात हुई थी। सुबह उनका शव मिला था। जिसके बाद से लोगों के गुस्से के चलते पुलिस के ऊपर दबाव था। बहुचर्चित मामला होने के कारण घटना के खुलासे के लिए नोएडा पुलिस के अलावा एसटीएफ को भी लगाया गया था। इससे पहले नोएडा में रीजनल मैनेजर की हत्या कर उनकी कार लूटने वाले बदमाशों ने आठ दिन बाद गाजियाबाद में कविनगर क्षेत्र से टियागो कार लूटी थी। दोनों ही कारों को बदमाश तीन घंटे के अंतराल में खड़ी करके फरार हो गए थे।  

यह भी पढ़े : 12वीं पास के लिए दिल्ली पुलिस में नौकरी का मौका


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top