News

अमेरिका जाने के लिए 32 साल का युवक बना 81 साल का बुजुर्ग

दिल्ली एयरपोर्ट पर सुरक्षा कर्मियों ने एक ऐसे शख्श को गिरफ्तार किया जो अपनी पहचान छुपाकर अपने से लगभग ढाई गुनी उम्र के व्यक्ति का भेष में विदेश जाने की फिराक में था। लेकिन दिल्ली के टर्मिनल 3 पर तैनात सीआईएसएफ की मुस्तैदी से अब सलाखों के पीछे पहुंच गया है

विमल कौशिक, न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (9 सितंबर): दिल्ली एयरपोर्ट पर सुरक्षा कर्मियों ने एक ऐसे शख्श को गिरफ्तार किया जो अपनी पहचान छुपाकर अपने से लगभग ढाई गुनी उम्र के व्यक्ति का भेष में विदेश जाने की फिराक में था। लेकिन दिल्ली के टर्मिनल 3 पर तैनात सीआईएसएफ की मुस्तैदी से अब सलाखों के पीछे पहुंच गया है। दरअसल रविवार रात करीब 9 बजे अमरीक सिंह नाम का एक बुजर्ग शख्श व्हीलचेयर पर बैठकर अमेरिका जाने वाली फ्लाइट की तरफ बढ़ रहा था तभी सुरक्षा जांच के समय सीआईएसएफ के सब इंस्पेक्टर राजवीर ने उन्हें सुरक्षा मशीन के पास आने को कहा तो बुजुर्ग ने अपनी उम्र का हवाला देते हुए मन कर दिया।

राजवीर ने इसके बाद बुजुर्ग का पासपोर्ट देखा जिसके मुताबिक उसकी उम्र करीब 81 साल थी। लेकिन चेहरे से बुजुर्ग का हावभाव इतने उम्रदराज होने का कोई प्रमाण नहीं दे रहे थे। जिसपर राजवीर ने शक होने पर बुजुर्ग से पूछताछ शुरू की तो बेहद चैकाने वाली साजिश सामने आई। दरअसल जो शख्श 81 साल का बुजुर्ग बन अमेरिका जाने की तैयरी कर रहा था उसकी उम्र महज 32साल है। उसने एजेंसियों को धोखा देने के लिए न सिर्फ अपने बाल और दाढ़ी को रंगा बल्कि मोटा चश्मा ओर थोड़ा मेक अप भी कर लिया। आरोपी शख्श का  असली नाम है जयेश पटेल। जो अहमदाबाद के रहने वाला है। उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया। जो उससे पूछताछ कर ये पता लगा रही है कि उसने ये साजिश कैसे और क्यों रची, आखिर नकली पासपोर्ट बनवाने में उसकी मदद किस किसने की।


Top