News

CAA के विरोधियों पर अमित शाह का तंज, कमल का बटन इतनी जोर से दबे कि करंट शाहीन बाग में लगे

दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election) की तारीख जितनी नजदीक आ रही हैं, उतनी ही आप (Aap), कांग्रेस (Congress) और बीजेपी (Bjp) एड़ी से चोटी तक जोर लगा रही हैं।

Amit Shah, अमित शाह

Image Source Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली(27 जनवरी): दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election) की तारीख जितनी नजदीक आ रही हैं, उतनी ही आप (Aap), कांग्रेस (Congress) और बीजेपी (Bjp) एड़ी से चोटी तक जोर लगा रही हैं। 21 साल से दिल्ली (Delhi) की सत्ता से दूर बीजेपी (Bjp) इस बार कोई मौका छोड़ना नहीं चाहती तो सत्ता में बने रहने के लिए आम आदमी पार्टी (Aap) भी ताकत झोंक रही है। दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election) में गृहमंत्री (Home Minister) अमित शाह (Amit Shah) ने सोमवार को बीजेपी उम्मीदवारों (Bjp Candidate) के लिए जनसभा को संबोधित किया। दिल्ली के रिठाला में सोमवार को राजधानी को सुरक्षित करने लिए बीजेपी को वोट दीजिये। कहा कि आपका वोट दिल्ली और देश दोनों के लिए अहम हैष वहीं उन्होंने दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल को घेरते हुए कहा कि केजरीवाल सरकार को झूठ में नंबर वन का अवॉर्ड मिलेगा।

शाह ने कहा, केजरीवाल कहते हैं कि पाकिस्तानियों की चिंता है। शर्म करो और चुल्लूभर पानी में डूब मरो। पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बंग्लादेश से आने वाले शरणार्थियों को हम गले ज़रूर लगाएंगे। शाह ने आरोप लगाया कि कांग्रेस और आप ने पूरी दिल्ली में भ्रम फैलाकर दंगे कराए हैं। आप लोगों ने शरजील का वीडियो देखा है न? उस पर देशद्रोह का मुकदमा दायर हुआ है, केजरीवाल को जवाब देना होगा कि वो शाहीन बाग के साथ खड़े हैं या नहीं? उन्होंने आगे कहा कि कमल का बटन इतनी जोर से दबाना कि वोट कमल को पड़े और करंट शाहीन बाग में लगे।

पिछले पांच साल में केजरीवाल ने एक भी चुनाव नहीं जीता

हाल ही में दिल्ली के मटियाला क्षेत्र में एक रैली को संबोधित करते हुए शाह ने सीएम केजरीवाल को घेरते हुए कहा था कि पिछले पांच साल में केजरीवाल ने एक भी चुनाव नहीं जीता। पहले वाराणसी में हारे, हरियाणा में हारे, पंजाब में हारे, एमसीडी चुनाव में हारे, फिर लोकसभा चुनाव में भी सारी सीटें हार गए। एक चुनाव जिताने के बाद सारे चुनाव दिल्ली की जनता ने उन्हें हराए हैं।

काम करने वाली सरकार चाहिए या धरना प्रदर्शन करने वाली सरकारउन्होंने कहा कि कुछ दिन बाद दिल्ली की जनता वोट डालकर दिल्ली की नई सरकार तय करने वाली है। शाह ने कहा कि आपका एक वोट ये तय करेगा कि पांच साल के लिए मोदी जी की तरह काम करने वाली सरकार चाहिए या धरना प्रदर्शन करने वाली सरकार चाहिए? ये आपको तय करना होगा। आप और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा कि दो साल पहले जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में भारत विरोधी नारे लगे। मोदी जी ने इनको जेल में डाला तो तुरंत केजरीवाल और राहुल एंड कंपनी वहां पहुंच गई और कहने लगे कि ये उनको बोलने की आजादी है।

केजरीवाल ने भी लगाया आरोप

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शाहीन बाग में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन को लेकर भाजपा के हमले पलटवार करते हुए सोमवार को केंद्र की सत्तारूढ़ पार्टी पर 'गन्दी राजनीति' करने का आरोप लगाया और कहा कि गृह मंत्री अमित शाह एवं दूसरे मंत्रियों को शाहीन बाग जाना चाहिए तथा लोगों से बातचीत कर रास्ता खुलवाना चाहिए।

आम आदमी पार्टी के नेता ने यह दावा भी किया कि भाजपा शाहीन बाग में रास्ता खुलवाना ही नहीं चाहती और यह सड़क आठ फरवरी (मतदान के दिन) के बाद खुल जाएगी. केजरीवाल ने संवाददाताओं से कहा, 'मुझे दुख है कि भाजपा इस मुद्दे पर गन्दी राजनीति कर रही है। शाहीन बाग में जाम से लोगों को बहुत तकलीफ हो रही है।, मैं कई बार कह चुका हूँ कि प्रदर्शन संवैधानिक अधिकार है लेकिन इससे किसी को तकलीफ नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा, 'भाजपा के लोग कह रहे हैं कि केजरीवाल रास्ता खुलवाने की अनुमति नहीं दे रहे हैं, चलो अनुमति दे दी। एक घण्टे में रास्ता खुलवाओ।


Related Story

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top