News

लगातार खतरनाक होता जा रहा है फानी तूफान

फानी तूफान लगातार खतरनाक होता जा रहा है। शुक्रवार दोपहर तक ये ओडिशा के तट से टकरा सकता है। जिसे लेकर यलो वॉर्निंग जारी कर दी गई है। वहीं मौसम विभाग ने बताया है कि फानी चक्रवाती तूफान में तब्दील हो चुका है

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (2 मई): फानी तूफान लगातार खतरनाक होता जा रहा है।  शुक्रवार दोपहर तक ये ओडिशा के तट से टकरा सकता है। जिसे लेकर यलो वॉर्निंग जारी कर दी गई है। वहीं मौसम विभाग ने बताया है कि फानी चक्रवाती तूफान में तब्दील हो चुका है। जो बेहद खतरनाक साबित हो सकता है। फानी तूफान के खतरे से भले ही केरल, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश बच गए हों, लेकिन ओडिशा पर अब भी इसका खतरा बरकरार है।

Image Credit: Google

मौसम विभाग की मानें तो फानी ने चक्रवाती तूफान का रूप अख्तियार कर लिया है और अब ये शुक्रवार को ओडिशा के तट तक पहुंच जाएगा। जिस दौरान फानी ओडिशा ते तट पर पहुंचेगा उस वक्त ओडीशा के तटीय इलाकों में 175-205 किलोमीटर घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का अनुमान है। वहीं हालात को देखते हुए यलो वॉर्निंग जारी की गई है। फानी तूफान के गोपालपुर और चांदबली के बीच से गुजरने की उम्मीद है। ऐसे में ईस्ट कोस्टर्न  रेलवे ने अबतक 103 ट्रेनों को रद्द कर दिया है। 

Image Credit: Google

चुनाव आयोग ने 11 जिलों में आचार संहिता को हटा लिया है ताकि राहत और बचाव कार्यों में तेजी लाई जा सके। बौध, कालाहांडी, संबलपुर, देवगढ़ और सुंदरगढ़ में तेज बारिश की संभावना है। जिसे देखते हुए स्कूल कॉलेजों में 2 मई तक छुट्टी का ऐलान कर दिया गया है। संवेदनशील जगहों पर NDRF की टीमें तैनात की गई हैं।

Image Credit: Google

मौसम विभाग ने मछुआरों के लिए भी अलर्ट जारी किया है। जिन्हें गहरे समुद्र में ना जाने की सलाह दी गई है। मौसम विभाग की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि 2 से 4 मई के बीच हालात बेहद खराब हो सकते हैं। वहीं हालात को देखते हुए राज्य सरकार ने भी चुनाव आयोग से मांग की थी कि फानी का असर जिन जिलों पर पड़ सकता है। वहां से आचार संहिता हटा ली जाए। जिसके बाद राज्य सरकार की मांग मानते हुए चुनाव आयोग ने 11 जिलों से आचार संहिता हटा ली है। आयोग ने पुरी, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, बालासोर, मयूरभंज, गजपति, गंजम, खोरधा, कटक और जाजपुर जिले से आचार संहिता हटा ली है। राहत और बचाव कार्य में कोई दिक्कत सामने ना आए।

Image Credit: Google

वहीं फानी के खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार ने 4 राज्यों के लिए अग्रिम सहायता राशि भी जारी कर दी है। चार राज्यों को 1 हजार 86 करोड़ का फंड जारी किया गया है। माना जा रहा है कि फानी तूफान पिछले साल आए तितली तूफान से ज्यादा खतरनाक साबित हो सकता है। जिसने 60 लोगों की जान ली थी। वहीं फानी के असर से उत्तर प्रदेश का मौसम भी करवट ले सकता है। जहां अगले 48 घंटे में तेज बारिश हो सकती है। साफ कि फानी तूफान  बड़ी तबाही मचा सकता है। जिससे बचने के लिए सरकार भी ऐहितायत के सारे कदम उठा रही है।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top