News

छत्तीसगढ़ के नए सीएम भूपेश बघेल के बारे में यहां जानिए सबकुछ

राजस्थान और मध्य प्रदेश के बाद छत्तीसगढ़ में भी सीएम पद के लिए कांग्रेस ने नाम का ऐलान कर दिया है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने भूपेश बघेल को छत्तीसगढ़ का मुख्यमंत्री बनाया है। पार्टी ने उनके नाम की आधिकारिक घोषणा भी कर दी है।गौरतलब है कि इस बार कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ में विरोधी लहर का जबर्दस्त फायदा उठाते हुए प्रचंड बहुमत से जीत हासिल कर 15 वर्षों से सत्ता में काबिज बीजेपी को उखाड़ फेंका। छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री पद के चयन के लिए विधायकों से पहले ही राहुल गांधी की बात हो चुकी थी।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (16 दिसंबर): राजस्थान और मध्य प्रदेश के बाद छत्तीसगढ़ में भी सीएम पद के लिए कांग्रेस ने नाम का ऐलान कर दिया है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने भूपेश बघेल को छत्तीसगढ़ का मुख्यमंत्री बनाया है। पार्टी ने उनके नाम की आधिकारिक घोषणा भी कर दी है।गौरतलब है कि इस बार कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ में  विरोधी लहर का जबर्दस्त फायदा उठाते हुए प्रचंड बहुमत से जीत हासिल कर 15 वर्षों से सत्ता में काबिज बीजेपी को उखाड़ फेंका। छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री पद के चयन के लिए विधायकों से पहले ही राहुल गांधी की बात हो चुकी थी। 

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने विधायकों की बैठक में चर्चा के बाद दिल्ली पहुंचकर राहुल गांधी को उनकी राय बताई थी। छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री पद के दो प्रमुख दावेदार थे। पहले भूपेश बघेल और दूसरे राज्य के सबसे अमीर विधायक टीएस सिंहदेव। मगर कांग्रेस नेतृत्व ने भूपेश बघेल को मुख्यमंत्री बनाना का फैसला लिया है। 

तीन विधानसभा चुनाव में हार और नक्सली हमले में कई नेताओं की मारे जाने के बाद संकट के दौर से गुजर रही कांग्रेस की कमान अक्टूबर 2014 में बघेल ने संभाली। यहां पढ़ें उनके बारे में 10 जानकारियां...

-1993 में वह पाटन से मध्य प्रदेश विधानसभा के लिए विधायक चुने गए। उन्होंने अगले चुनाव में भी अपनी सीट बरकरार रखी।

-दिसंबर 1998 में दिग्विजय सिंह के कैबिनेट (मुख्यमंत्री से जुड़ी लोक शिकायत विभाग) में बघेल को राज्य मंत्री नियुक्त किया गया और दिसंबर, 1999 में परिवहन मंत्री के रूप में पदोन्नत किया गया। उन्हें जनवरी 2000 में एमपी राज्य सड़क परिवहन निगम का अध्यक्ष नियुक्त किया गया।

-2000 में छत्तीसगढ़ के निर्माण के बाद बघेल 2003 के चुनाव में अपनी सीट बरकरार रखने में कामयाब रहे। उन्होंने 2003 से 2008 तक छत्तीसगढ़ विधानसभा में विपक्ष के उप नेता के रूप में कार्य किया।

-बघेल 2003 तक छत्तीसगढ़ के राजस्व, राहत कार्य, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं पुर्नवास के प्रथम मंत्री रहे।-2008 के चुनाव में वे पाटन विधानसभा सीट से हार गए। 2004 में दुर्ग लोकसभा सीट और 2009 में रायपुर सीट से वो लोकसभा चुनावों में कांग्रेस उम्मीदवार थे लेकिन दोनों बार हार गए। 2013 के 

-विधानसभा चुनाव में उन्होंने अपनी पारंपरिक पाटन विधानसभा सीट फिर से प्राप्त कर ली।

-अंतागढ़ उप विधानसभा चुनाव ऑडियो टेप विवाद के बाद उन्होंने राज्य कांग्रेस से पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी और उनके बेटे अमित जोगी को किनारे करने में कामयाबी हासिल की।

-अक्टूबर 2017 में एक कथित सेक्स टेप वायरल हुआ। सीडी कांड में भूपेश बघेल के खिलाफ रायपुर में प्राथमिकी दर्ज हुई। इस मामले में भूपेश बघेल 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भी भेजा गया।

-बघेल ने रमन सिंह सरकार के खिलाफ हवा बनाने का काम किया। उन्होंने सरकार के कई फैसलों के खिलाफ पदयात्रा भी की। मजबूत बीजेपी सरकार के खिलाफ वो डटकर खड़े रहे। उन पर बीजेपी ने व्यक्तिगत हमले भी किए लेकिन वो रुके नहीं।

-बघेल कुर्मी जाति से आते हैं, जो कि राज्य की ओबीसी आबादी में लगभग 36% है। 2019 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए ये उनके पक्ष में गया। 1993 से वो छत्तीसगढ़ मानव कुर्मी क्षत्रिय समाज के संरक्षक हैं।

-वह समाज में सामाजिक सुधारों की वकालत करते हैं। भव्य विवाह कार्यों से बचने और न्यूनतम व्यय के साथ विवाह को बढ़ावा देने के लिए वह सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन करते हैं।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top