News

ममता बनर्जी पर CBDT का पलटवार, दुर्गा पूजा समिति को नहीं जारी किये गये नोटिस

सीबीडीटी ने कोलकाता की दुर्गा पूजा समितियों को इनकम टैक्स नोटिस देने की खबरों का पुरजोर खंडन किया है। सीबीडीटी ने उन मीडिया खबरों को गलत और निराधार बताया

मनीष कुमार, न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (14 अगस्त): सीबीडीटी ने कोलकाता की दुर्गा पूजा समितियों को इनकम टैक्स नोटिस देने की खबरों का पुरजोर खंडन किया है। सीबीडीटी ने उन मीडिया खबरों को गलत और निराधार बताया है जिसमें कहा गया है कि कोलकाता की दुर्गा पूजा समिति को इनकम टैक्स विभाग ने नोटिस भेजा है साथ ही दुर्गा पूजा समिति फोरम को भी हाल फिलहाल में टैक्स विभाग द्वारा नोटिस थमाया गया है। इनकम टैक्स विभाग ने इन खबरों को सच्चाई से परे बताया है। सीबीडीटी ने कहा कि कोलकाता के दुर्गा पूजा समिति फोरम को इस वर्ष कोई नोटिस जारी नहीं किया गया है।

ममता ने साधा था मोदी सरकार पर निशाना

दरसअल पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कई दुर्गा पूजा समितियों को इनकम टैक्स द्वारा नोटिस जारी करने के लिए केंद्र सरकार पर जोरदार हमला बोला था। ममता ने त्योहारों के लिए टैक्स छूट की मांग की थी। ममता ने ट्वीट किया कि " आयकर विभाग ने कई दुर्गा पूजा आयोजित करने वाली समितियों को नोटिस जारी किए हैं और उनसे करों का भुगतान करने के लिए कहा गया है। हमें अपने सभी राष्ट्रीय त्योहारों पर गर्व है। ये त्यौहार सभी के लिए हैं और हम नहीं चाहते हैं कि किसी भी पूजा समिति पर कर लगाया जाए, इससे आयोजकों पर बोझ बढ़ेगा।"

इनकम टैक्स विभाग की सफाई

ममता बनर्जी के बयान के बाद इनकम टैक्स विभाग को सफाई देना पड़ी। हालांकि सीबीडीटी ने यह जरूर कहा कि इनकम टैक्स विभाग को यह जानकारी मिली थी कि ऐसे कई कांट्रेक्टर हैं जिन्होंने पूजा समितियों के लिए काम किया है पर टैक्स का भुगतान नहीं हुआ। इसलिए इनकम टैक्स विभाग को इनकम टैक्स एक्ट 1961 की धारा 133(6) के तहत दिसंबर 2018 में 30 पूजा समितियों को नोटिस जारी करना पड़ा। इन पूजा समितियों से टैक्स विभाग ने नोटिस जारी कर कॉन्ट्रैक्टर और इवेंट मैनेजर्स को किए गए भुगतान के एवज में काटे गए टीडीएस की जानकारी मांगी,  जिसमें टीडीएस स्टेटमेंट भी शामिल है। इनकम टैक्स विभाग के मुताबिक़ ये कारवाई विभाग के टीडीएस विंग द्वारा इसलिए की गई जिससे ये सुनिश्चित किया जा सके कि कॉन्ट्रैक्टर और इवेंट मैनेजर्स टैक्स का भुगतान समय पर करें। कई पूजा समितियों ने नियम का पालन करते हुए काटे गए टीडीएस और सरकार के खाते में जमा कराए गए टैक्स के रकम के सबूत भी दिखाये।

सीबीडीटी के मुताबिक कई दुर्गा पूजा समितियों ने इनकम टैक्स विभाग से टीडीएस के नियमों से अवगत कराने के लिए एक कार्यशाला आयोजित करने का अनुरोध किया था। इस अनुरोध पर 16 जुलाई 2019 को एक कार्यशाला का आयोजन भी किया गया। जिसमें पूजा फोरम के 8 सदस्यों ने शिरकत भी किया। टीडीएस को लेकर उनके शंकाओं और सवालों का जवाब दिया गया। इनकम टैक्स विभाग के मुताबिक ये सब इसलिए किया गया कि पूजा समिति समय पर टीडीएस का भुगतान कर सकें।

Images Courtesy:Google


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top