News

बिहार में तीन दिन दवा की दुकानें रहेंगी बंद, जानिए पूरा मामला

दवा दुकानों में फार्मासिस्ट (Pharmacist) की अनिवार्य नियुक्ति में छूट की मांग और दवा की ऑनलाइन बिक्री (Online Sale) के विरोध में बिहार (Bihar) की सभी दवा की दुकानें तीन दिन तक बंद रहेंगी। हालांकि बिहार (Bihar) केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन (Association)

chemist, केमिस्ट

Image Source Google

सौरभ कुमार, न्यूज 24 ब्यूरो, पटना(22 जनवरी): दवा दुकानों में फार्मासिस्ट (Pharmacist)  की अनिवार्य नियुक्ति में छूट की मांग और दवा की ऑनलाइन बिक्री (Online Sale) के विरोध में बिहार (Bihar) की सभी दवा की दुकानें तीन दिन तक बंद रहेंगी। हालांकि बिहार (Bihar) केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन (Association) ने कहा है कि सरकारी अस्पताल (Government Hospital) परिसरों में दुकानें खुली रहेंगी और इस बंद का इमरजेंसी (Emergency) सेवा पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है। बता दें कि सरकार ने हर दवा दुकान के लिए एक फार्मासिस्ट की नियुक्ति अनिवार्य कर दी है, जबकि दवा दुकानदार फार्मासिस्ट की नियुक्ति में छूट चाहते हैं। इस मुख्य मांग के साथ को लेकर बिहार केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट एसोसिएशन (BCDA) और स्वास्थ्य विभाग के बीच वार्ता का प्रयास विफल हो गया। दवा दुकानदारों का कहना है कि राज्य में वर्तमान में सात हजार फार्मासिस्ट हैं, जबकि 50 हजार से अधिक दवा दुकानें हैं।

ये हैं मांग

BCDA की प्रमुख मांगों में फार्मासिस्ट की समस्या के समाधान होने तक पूर्व की व्यवस्था लागू रहने देने, दवा दुकानदारों का लाइसेंस रद्द करने की कार्रवाई पर रोक, दवा दुकानों की निरीक्षण में एकरूपता और पारदर्शिता रहने, विभागीय निरीक्षण के दौरान उत्पीड़न पर रोक लगाने जैसी मांगे भी शामिल हैं। एसोसिएशन का कहना है कि बिहार सरकार को भी दूसरे राज्यों की तरह दवा दुकानदारों को विशेष कोर्स कराकर दुकान चलाने की अनुमति प्रदान करनी चाहिए। संघ का कहना है कि अन्य राज्यों में इस तरह की समस्या है, लेकिन ज्यादातर राज्यों ने इस समस्या का समाधान निकाल लिया है।

एसोसिएशन ने दी है चेतावनी

गौरतलब है कि स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारियों ने BCDA को बातचीत के लिए बुलाया था, लेकिन संघ के सदस्यों ने इनकार कर दिया। संघ ने चेतावनी दी है कि अगर दवा दुकानदारों के साथ किसी प्रकार की जोर-जबरदस्ती की गई या अनावश्यक दबाव बनाने का प्रयास किया गया तो यह हड़ताल अनिश्चितकालीन भी हो सकती है।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top