News

विधानसभा चुनावः बीजेपी का सभी राज्यों में जीत की दावा !

नई दिल्ली (4 जनवरी): नोटंबदी के बाद विभिन्न राज्यों में हुए स्थानीय निकायों में जीत से उत्साहित बीजेपी यही प्रदर्शन विधानसभा में दोहराये जाने को लेकर उत्साहित है। वहीं कांग्रेस नोटबंदी से आम आदमी को हुई परेशानी को मुद्दा बनाकर चुनाव मैदान में बाजी मारने की फिराक में है। वहीं, अन्यदल भी अपने-अपने दावे ठोक रहे हैं। बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा कि आमतौर पर राज्यों के चुनाव स्थानीय मुद्दों पर लड़े जाते हैं लेकिन नोटबंदी के बाद पैदा हुए सकारात्मक लहर का बीजेपी को फायदा मिलेगा। उन्होंने कहा, 'नोटबंदी के बाद सकारात्मक लहर है। हमें सभी राज्यों में जीत की उम्मीद है। हमें सबसे ज्यादा बढ़त मिल सकती है।' उन्होंने कहा कि बीजेपी मणिपुर में पहले अच्छा प्रदर्शन नहीं करती थी लेकिन उपचुनावों में पार्टी का प्रदर्शन अच्छा रहा है।

उधर कांग्रेस के चीफ प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने 5 राज्यों के चुनावों को लोकतंत्र का यज्ञ बताते हुए चुनाव आयोग से साफ-सुथरा चुनाव कराने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा, 'हमें उम्मीद है कि इन चुनावों में बाहुबली ताकतों और सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग को रोका जाएगा। यह लोकतंत्र के लिए बेहतर होगा।'

दिल्ली के सीएम और एएपी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा, 'पंजाब और गोवा में हालात बहुत खराब है। पंजाब में अकली-बीजेपी गठबंधन को जनता उखाड़कर एएपी को सत्ता में लाना चाहती है। ताकि उनको भ्रष्टाचार से मुक्ति मिल सके।' केन्द्र में एनडीए की सहयोगी शिव सेना भी चुनावों के लिए कमर कस चुकी है। शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा, 'पार्टी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में अहम बैठक कर रही है। बैठक में चुनाव के मसले पर बातचीत होगी।'

समाजवादी पार्टी के अखिलेश यादव खेमे के नेता नरेश अग्रवाल ने चुनावों की घोषणा पर कहा, 'जिस तरह चुनावों के बीच में संसद का बजट सत्र आहूत किया गया है वह सही नहीं है। हम चुनाव आयोग से बजट सत्र स्थगित करने का आग्रह करेंगे।' उधर बीएसपी नेता सुधींद्र भदौरिया ने बीजेपी और एसपी पर हमला करते हुए कहा कि नोटबंदी और गुंडाराज ने कारण जनता को काफी कष्ट भोगने पड़े हैं। उन्होंने कहा, ' हम इन दोनों पार्टियों से दो-दो हाथ करने के लिए चुनाव घोषणा का ही इंतजार कर रहे थे।'पंजाब कांग्रेस के मुखिया अमरिंदर सिंह कि पार्टी ने चुनाव आयोग से राज्य में एक ही दिन में चुनाव कराने का आग्रह किया था। उन्होंने कहा, 'यह बहुत अच्छा है। हम अकाली और बीजेपी गठबंधन को राज्य से उखाड़ फेकेंगे।'यूपी में कांग्रेस सीएम पद की उम्मीदवार शीला दीक्षित ने भी चुनाव घोषणा का स्वागत करते हुए कहा कि पार्टी राज्य में जीतने के लिए लड़ेगी। उत्तराखंड में बीजेपी नेता विजय बहुगुणा ने कहा कि राज्य की जनता हरीश रावत के नेतृत्व में भ्रष्ट और जन विरोधी सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए बेताब है।


Related Story

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top