News

पीएम मोदी को खून से लिखा पत्र कहा, कश्मीर से हटाई जाए धारा 370

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद होने से देश के चारो ओर पाकिस्तान को लेकर गुस्सा लगातार बढ़ता जा रहा है। अब तो जम्मू कश्मीर में लागू धारा 370 को हटाने के लिए देश के लोग मांग करने लगे हैं।

Image source: google

न्यूज 24, नई दिल्ली (20 फरवरी ):  जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद होने से देश के चारों ओर पाकिस्तान के खिलाफ गुस्सा बढ़ता जा रहा है। अब तो जम्मू-कश्मीर में धारा 370 को हटाने के लिए देश के लोग मांग करने लगे हैं। मामला बिहार की राजधानी पटना का है, जहां युवकों ने आगे बढ़कर अपने खून से पत्र लिखकर प्रधानमत्री नरेंद्र से पाकिस्तान से बदला और कश्मीर से धारा 370 खत्म करने की मांग की है।

गुरु रहमान के नेतृत्व में 101  युवकों ने सरकार से मांग की है कि कश्मीर से अविलंब धारा 370 हटाया जल्द हटाया जाए। आपको बता दें कि गुरु रहमान पटना में सिर्फ 11 रुपये की गुरुदक्षिणा लेकर आईएएस,आईपीएस का कोचिंग सेंटर चलाता है। उनके साथ कोचिंग सेंटर पढ़ने वाले करीब 101स्टूडेंट्स भी रहे। जिन्होंने खून से खत लिखा है। इस खत में प्रधानमंत्री से पुलवामा का बदला लेने और कश्मीर से धारा 370 हटाने की मांग की गई है। गुरु रहमान के अनुसार जब तक कश्मीर में धारा 370 है कश्मीर भारत का अभिन्न अंग नही है।

गुरु रहमान ने पत्र के माध्यम से अपील करी है कि नरेंद्र मोदी 370 को कश्मीर से हटा देती है तो शहीदों के लिए  सबसे अच्छी श्रद्धांजलि यही  होगी। गुरु रहमान ने इस मौके पर अदम्य अदिति गुरुकुल ने शहीद परिवार के बेटे और बेटियों की पढ़ाई लिखाई की जिम्मेदारी भी ली है।

रहमान ने कहा कि अभी 101 स्टूडेंट्स ने प्रधानमंत्री को खून से लिखा खत भेजा है, जबकि आगे भी हजारों युवकों का खत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजा जाएगा। आपको बता दें की कश्मीर से धारा 370 हटाने की मांग लगातार उठती रही है। यह मामला इस समय सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है। समय-समय पर धारा 370 हटाने को लेकर जम्मू-कश्मीर में तनाव भी हो जाता है। 


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top