News

गद्दार डीएसपी देविन्दर सिंह के 10 नए बड़े खुलासे !

गद्दार डीएसपी देविन्दर सिंह के बारे में न्यूज 24 को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी ...इंदिरा नगर वाले घर से मिले 10 लाख कैश, एक एके 47 और दो पिस्तौल ...डीएसपी के घर में रुके थे आतंकी, आतंकियों को जगह जगह भेजने का काम किया। एक डॉक्टर के घर पर NIA ने छापे मारी की जिसके यहां नावेद और दूसरे आतंकियों को छिपाने की व्यवस्था की थी। साल 1997 में अमूल के ट्रक को चुराने में भी था हाथ

आसिफ सुहाग, न्यूज 24 ब्यूरो,जम्मू कश्मीर (22 जनवरी):  गद्दार डीएसपी देविन्दर सिंह के बारे में न्यूज 24 को मिली एक्सक्लूसिव जानकारी ...इंदिरा नगर वाले घर से मिले 10 लाख कैश, एक एके 47 और दो पिस्तौल ...डीएसपी के घर में रुके थे आतंकी, आतंकियों को जगह जगह भेजने का काम किया। एक डॉक्टर के घर पर NIA ने छापे मारी की जिसके यहां नावेद और दूसरे आतंकियों को छिपाने की व्यवस्था की थी

साल 1997 में अमूल के ट्रक को चुराने में भी था हाथ

1.जम्मू-कश्मीर के डीएसपी (निलंबित) देवेंद्र सिंह के मामले की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की टीम ने आज बुधवार को कई जगहों पर छापेमारी की है। न्यूज 24 के विशेष खुफिया रिपोर्ट से कई सारे राज से पर्दे उठाया गया है।

2.एनआईए ने इंदिरा नगर स्थित देवेंद्र के घर के अलावा गुलशन नगर इलाके में भी छापेमारी की है। इसके साथ ही देवेंद्र सिंह और अन्य आरोपियों को कस्टडी में लेने की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है।

3.खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक DSP देवेंद्र सिंह ने न ही केवल आतंकि को अपने घर इंद्रानगर पर रुकने की इजाजत दी। वो लगातार उनकी जगहों (चानपोरा और सानातनगर) को भी बदलवाने में मदद करता रहा । 

4.. एनआईए की कार्रवाई तेज है , कई जगहों पर छापेमारी की जा रही है। NIA ने श्रीनगर के इंद्रानगर पर भी छापेमारी की । इसके साथ डॉक्टर के ठीकानों पर भी छापेमारी की गई जहा आंतकि को रुकवाया जाता था।

5..हालांकि, एनआईए के सीनियर अफसर आज ही दिल्ली वापस लौट रहे हैं, लेकिन 5 लोगों की टीम अभी कश्मीर में रहेगी और मामले की जांच करेगी.

6. एनआईए के सीनियर अफसर आज ही दिल्ली वापस लौट रहे हैं, लेकिन 5 लोगों की टीम अभी कश्मीर में रहेगी और मामले की जांच करेगी।

7. न्यूज 24 की तरफ से एक्सेस की गई एनटीएल रिपोर्ट में एक अमूल बटर ट्रक के बारे में बताया गया है जो वर्ष 1997 में डीएसपी सिंह की तरफ से चुराया गया था। रिपोर्ट के अनुसार यह ट्रक तत्कालीन डिप्टी सीएम गुलाम मोही दीन शाह के परिवार से संबंधित था और मामला उसी के अनुसार दर्ज किया गया था लेकिन डीएसपी सिंह थे तत्कालीन एसएसपी बडगाम आशिक बुखारी ने बचाया जो दविंदर सिंह का तत्काल बॉस था। 

8. रिपोर्ट में ये भी  उसके तीन घर का जिक्र किया गया है। 2 घर श्रीनगर में है और एक घर जम्मू में है।  जो कि जबरन वसूली के पैसों से बनाया गया है, जिसका इस्तेमाल वह मासूम युवाओं को उग्रवाद से जुड़े मामलों में फंसाकर करता था।

9. रिपोर्ट में ये भी खुालासा हुआ है कि DSP फर्जी मुठभेड़ों  में शामिल था। जो श्रीनगर में निर्दोष नागरिकों के साथ किया गया ।

10.इंटेल की रिपोर्ट में बताया गया है कि कैसे दविंदर सिंह को वर्ष 1992 में तत्कालीन आईजी कश्मीर पीएस गिल ने बचाया था जब उन्होंने जब्त किए गए नारकोटिक्स को तस्करों को बेच दिया था और विभाग ने उन्हें सेवा से बर्खास्त करने की सिफारिश की थी।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top