News

राजपथ पर जमीन से लेकर आसमान तक दुनिया ने देखी भारत की ताकत

नई दिल्ली (26 जनवरी): देश आज 67वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। पहली बार फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांसवा ओलांद मुख्य अतिथि रहे। उनकी सुरक्षा के लिए पिछली बार से भी ज्यादा कड़े इंतजाम किए गए हैं। उन्हें दिल्ली पुलिस, एनएसजी कमांडो, सुरक्षा एजेंसियां, एयरफोर्स, पैरामिलिट्री फोर्स सहित सात लेयर की सुरक्षा दी गई है।
 
> रिपब्लिक डे सेलिब्रेशन का हुआ समाप्त।
> राष्टपति के अंगरक्षक विजय चौक की तरफ से वापस लौट रहे हैं। 46 घोड़े इस दस्ते में शामिल हैं।
> 300 मीटर की ऊंचाई पर 900 किमी की रफ्तार से लड़ाकू विमान ने उड़ान भरी।
> तीन c-17 और  दो सुखोई ने भरी उड़ान। गर्जना सुन लोगों ने बजाई तालियां।
> 780 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से गुजरे विमान।
> सबसे बड़े विमान ग्लोबमास्टर सलमी मंच के ऊपर से गुजरता हुआ।
> दिल्ली के आसमान में फ्लाइपास्ट करती वायुसेना। जमीन से केवल 200 फीट की ऊंचाई पर उड़ने में सक्षम हैं।
> मोटर साइकिल सवार जांबाज करतब दिखाते हुए। मोटर साइकिल के सीट पर खड़े होकर सलामी मंच से गुजरते हुए।
> आर्मी पब्लिक स्कूल सदर बाजार के बच्चे नमामि गंगे के मधुर सुर पर नृत्य करते हुए।
> सांस्कृतिक केंद्र नागपुर की पेशकश। हाथ में डांडिया लिए और मुखौटा पहने छात्र कर रहे हैं सोंगी मुखौटा नृत्य। इसमें 145 छात्रों का समूह है।
> दिल्ली के सर्वोदय विद्यालय और प्रतिभा बाल विकास विद्यालय के बच्चे उड़िसा का संबलपुरी लोक नृत्य पेश कर रहे हैं। 
> शिक्षा भारती स्कूल के बच्चे 'धरती धौरा री' की धुन पर नृत्य करते हुए।
> 25 बहादुर बच्चों का दस्ता सलामी मंच से गुजरते हुए। इसमें 25 बच्चे शामिल हैं। इसमें 3 लड़कियां और 20 लड़के मौजूद हैं जबकि 2 लड़कों को मरनोपरांत यह पुरस्कार दिया गया है।
> पंचायती राज मंत्रालय की झांकी सलामी मंच से गुजरते हुए। निर्वाचित महिलाओं की झलक दिखाते हुए।
> निर्वाचन आयोग की झांकी सलामी मंच से गुजरते हुए। लोकतंत्र में भागीदारी की झलक लिए।
> सूचना मंत्रालय की झांकी में डिजिटल इंडिया पर आधारित है मंच से गुजरते हुए। > स्वच्छता मंत्रालय की झांकी सलामी मंच से गुजरते हुए। 
> नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय की झांकी सलमी मंच से गुजरते हुए। 175 मेगावाट ऊर्जा का लक्ष्य है।
> बाबा अंबेडकर की 125वीं जयंती की झलक के साथ सामाजिक न्याय मंत्रालय की झांकी सलामी मंच से गुजरती हुई।
> असम की झांकी में रोंगाली बिहु का दिखाया गया है। यह नए साल का प्रतीक माना जाता है।
> उत्तर प्रदेश की झांकी सलामी मंच से गुजरती हुई। इसमें कपड़ों पर जरदोजी को दिखाया गया है। इस तरह विलुप्त होती परंपरा पर आधारित है।
> रम्माण उत्सव को दर्शाती उतराखंड की झांकी। इसे विश्व धरोहर में स्थान प्राप्त है।
> तमिलनाडु की झांकी आदिम जनजातियों की झलक को पेश करती हुई।
> छत्तीसगढ़ की झांकी सलामी मंच से गुजरते हुए। इसमें खैरागढ़ विश्वविद्यालय की झलक दिख रही है।
> मध्यप्रदेश की झांकी सलामी मंच से गुजरते हुए। इसमें वन्य अभ्यराण को दिखाया है। शेरों को दिखाया गया।
> कर्नाटक की झांकी सलामी मंच से गुजरते हुए। सदानंद गौड़ा ने खड़े होकर स्वागत किया। > बिहार की झांकी मंच से गुजरते हुए। चंपारण सत्याग्रह की थीम पर बनी है झांकी। > पश्चिम बंगाल की झांकी समामी मंच से गुजरते हुए।  > ओडिशा की झांकी सलामी मंच से गुजरते हुए। 
> त्रिपुरा की झांकी सलामी मंच से गुजरते हुए। उनाकोटी की कलाकृतियों से सजी है यह झांकी।
> झांकी में शहर की खूबसूरत बिल्डिंग्स को दिखाया गया है।
> चंड़ीगढ़ की झांकी सलामी मंच से गुजरते हुए। > 5 मंजिला इमारत है हवामहल। 50 फीट ऊंचाई है। 
> राजस्थान की झांकी सलामी मंच से गुजरते हुए। इसमें हवा महल को सबसे आगे दिखाया गया है। > जम्मू-कश्मीर की झांकी गुजरते हुए। मेरा गांव मेरा जहां के स्लोगन के साथ सलामी मंच से गुजरते हुए। > सिक्किम की झांकी गुजरते हुए। इसमें बुद्ध जयंती उत्सव सागा दावा की झलक। 
> गुजरात की गिर सेंचुरी की झांकी। > जागो जनजाती के झलक दिखाती गोवा की झांकी। > गोवा की झांकी समामी मंच से गुजरते हुए। > एनएसएस का दस्ता सलामी मंच के सामने से गुजरते हुए।
> एनसीसी की महिला कैडेट का दस्ता सलामी मंच से गुजरते हुए। > एनसीसी 89 कैडेट का बैंड और दस्ता सलामी मंच से गुजरते हुए। आज इसमें 14 लाख कैडेट हैं। > बीएसएफ का मार्चिंग बैंड सलामी मंच से गुजरते हुए। ऊंटों पर सवार है बैंड। > बीएसएफ की टुकड़ी राजपथ पर। डिप्टी कमांडेंट अरविंद गिरि कर रहे हैं लीड। > डीआरडीओ की झांकी सलामी मंच से गुजरते हुए। > एयरफोर्स की झांकी और बैंड सलामी मंच से गुजरते हुए। > इंडियन नेवी की झांकी सलामी मंच से गुजरते हुए। > नेवी का मार्चिंग दस्ता सलामी मंच के सामने।
> 26 साल बाद पहली बार रेमाउंट वेटेरनरी कोर की डॉग स्क्वॉड सलामी मंच से गुजरते हुए। > 11 गोरखा राइफल्स के जवान सलामी मंच से गुजरते हुए। > पैराशूट रेजिमेंट सलामी मंच से गुजरते हुए। > हुए। कैप्टन अर्चना सिंह की अगुवाई में इंटीग्रेटेड कम्युनिकेशन इलेक्ट्रॉनिक डिफेंस सिस्टम सलामी मंच से गुजरते हुए। > स्मर्च लॉन्चर व्हीकल्स सलामी मंच से गुजरते हुए। > कैप्टन नेहा सिंह की अगुवाई में आकाश मिशाइल सलामी मंच के गुजरते हुए।
> लेफ्टिनेंट जनरल राजन रविंद्रन कर रहे हैं गणतंत्र दिवस परेड की अगुवानी।
> टैंक टी-90 भीष्म सलामी मंच से गुजरते हुए।
> पहली बार फ्रांस की टुकड़ी राजपथ पर। इसमें महिला सैनिक भी शामिल हैं।
> लान्स नायक मोहन नाथ गोस्वामी की पत्नी ने ग्रहण किया अशोक चक्र।
> लान्स नायक मोहन नाथ गोस्वामी ने सितंबर 2015 में कुपवाड़ा में चार अंतिकयों को मार गिराया था।
> लान्स नायक मोहन नाथ गोस्वामी को मरणोपरान्त दिया गया अशोक चक्र।

> राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने ध्वजारोहण किया। > फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांसवा ओलांद राजपथ पहुंचे। पीएम मोदी ने उनका स्वागत किया। > उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी राजपथ पहुंचे। पीएम मोदी ने उनका स्वागत किया। > पीएम मोदी राजपथ पहुंचे।

> पीएम मोदी अमर जवान ज्योति पहुंचे। रखा दो मिनट का मौन।

> रक्षा मंत्री मनोहर पार्रिकर इंडिया गेट पहुंचे। > अमर जवान ज्योति पर श्रद्धांजलि देने पहुंचे। > 1971 से जल रही है अमर जवान ज्योति। > तीनों सेना के अध्यक्ष अमर जवान ज्योति पहुंचे।

> गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने अपने आवास पर फहराया तिरंगा। > श्रीनगर: सुरक्षाबलों ने आज सुबह मुठभेड़ में एक आतंकी मार गिराया। > सुबह 9:25 से राजपथ पर शुरू होगा गणतंत्र दिवस का कार्यक्रम। > बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने बीजेपी मुख्यालय में फहराया झंडा।

राजपथ पर फ्रांस की सेना का 76 सदस्यीय दल भारत के राष्ट्रपति को सलामी देगा। परेड में 26 साल बाद सेना का डॉग स्क्वॉड हिस्सा लेगा। इस मौके हर साल की तरह राजपथ पर रंग बिरंगी झाकियां भी नजर आएंगी।

  पहली बार परेड में... > 26 साल बाद डॉग स्क्वॉड परेड में शामिल होगी। > बारिश से बचने के लिए पहली बार मोटोराइज्ड ग्लास रुफ लगाया गया है। > 23 झांकियां इस बार के परेड में। > CRPF, ITBP और SSB की टुकड़ी परेड में शामिल नहीं। > 120 महिला डेयरडेविल्स की टीम परेड में शामिल। > ओबामा से ज्यादा सुरक्षा ओलांद को।

कैसी है सुरक्षा  गणतंत्र दिवस को लेकर पूरी दिल्ली में सवा लाख से ज्यादा जवान तैनात हैं। राजपथ पर जाने वाली तमाम सड़कों को बंद कर दिया गया है। सुरक्षा के मद्देनजर दिल्ली से जुड़े तमाम बॉर्डर सील कर दिए गए हैं। वहां से गुजरनेवाली गाड़ियों की सघन तलाशी ली जा रही है। हर संदिग्ध पर पैनी नजर रखी जा रही है।

सात लेयर का सुरक्षा कवच परेड रूट पर 15 हजार सीसीटीवी लगे। सात लेयर का बनाया सुरक्षा चक्रव्यूह। नो फ्लाइंग जोन में भी सख्त पहरेदारी। संदिग्ध को देखते ही मार गिराने के आदेश। बेड़े में 10 (LMG) लाइट मशीन गन शामिल। जांबाजों के हाथों में एंटी एयरक्राफ्ट गन भी दी। दुश्मन को 2 किमी दूर ही ढेर करने के निर्देश। राजपथ के इर्द-गिर्द 45 इमारतों पर जवान तैनात। ट्रैफिक पुलिस के जवानों को 1000 रिवॉल्वर दी।


Related Story

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top