News

#News24conclave: 'घाटी में जारी तनाव पर जल्द नियंत्रण जरूरी, केंद्र उठाए जरूरी कदम'

नई दिल्ली (13 मई): केंद्र में मोदी सरकार के तीन साल पूरे होने जा रहे हैं। इस मौके पर न्यूज 24 ने खास कार्यक्रम 'तीन साल मोदी सरकार' का आयोजन किया। न्यूज 24 के इस खास कॉन्क्लेव में जम्मू-कश्मीर का भी मुद्दा उठा। इस खास चर्चा में कांग्रेस की ओर से आरपीएन सिंह, बीजेपी की ओर से सुधांशु त्रिवेदी, नेशनल कॉन्फ्रेस के नेता डॉ. समीर कौल और पीडीपी के नेता निजामुद्दीन भट्ट शामिल हुए। घाटी में पिछले कई महीनों से जारी तनाव और हिंसा के लिए विपक्षी पार्टियां केंद्र सरकार और राज्य की बीजेपी-पीडीपी गठबंधन की नीति को जिम्मेदार ठहरा रही है। वहीं केंद्र और राज्य सरकार का दावा है शूबे में जल्द हालात सामान्य हो जाएंगे...

न्यूज 24 के इस खास कॉन्क्लेव कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में अमन और शांति के लिए कांग्रेस की सरकार ने जो भी काम किया था उसे मौजूदा सरकार ने खत्म कर दिया।

आरपीएन सिंह की बड़ी बातें...

- मोदी जी के पाकिस्तान जाने के बावजूद जम्मू-कश्मीर में सीजफायर वॉयलेशन हो रहे हैं

- बीजेपी सबका साथ-सबका विकास का नारा देती है, पर ऐसा नहीं है

- 66 से 2 फीसदी वोटिंग कश्मीर में होती है

- कांग्रेस के समय में जो काम हुआ, वह खत्म हो गया

वहीं बीजेपी नेता सुधांशु त्रिवेदी ने जम्मू-कश्मीर के मसले को कांग्रेस जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी की अगुआई में पिछले 3 साल में काफी काम हुआ है और अब कश्मीर के युवाओं को कोई बहका नहीं सकता।

सुधांशु त्रिवेदी की बड़ी बातें...

- कांग्रेस हर बार BJP पर सांप्रदायिकता का आरोप लगाती रही है, बावजूद हम देश में जीत रहे हैं

- कुछ लोग बच्चों का प्रयोग करके उन्हें आगे कर रहे हैं

- कश्मीर में 3 साल में काफी कुछ अच्छा भी हुआ है

- अब कश्मीर के युवाओं को आप बहका नहीं सकते

वहीं जम्मू-कश्मीर की सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी नेशनल कॉन्फ्रेंस जम्मू-कश्मीर खास कर घाटी के मौजूदा हालात के लिए राज्य की बीजेपी-पीडीपी गठबंधन को जिम्मेदार ठहरा रही है। पीडीपी नेता डॉ. समीर कौल ने कहा की महबूबा सरकार की गलत नीतियों की वजह से राज्य के हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं।

डॉ. समीर कौल की बड़ी बातें...

- आज कश्मीर की गली-गली में आग है-

- जो पाकिस्तान को सरेआम कहता है कि उसे बर्बाद कर दो तो उसे आप एंटी नेशनल कहते हैं

- कश्मीर के युवा सविल सर्विस और फोज में जा रहे हैं

- कुछ लोग नहीं चाहते कि कश्मीर के युवा आगे बढ़े

- कश्मीर के हालात के लिए कांग्रेस भी जिम्मेदार है

उधर पीडीपी का कहना है वो राज्य में लगातार हालात सुधारने के लिए कदम उठा रही है, और जल्द ही घाटी में हालात जल्द सामान्य हो जाएगे। उन्होंने कहा कि अबतक तमाम पार्टियां कश्मीर के लोगों की समस्याओं को समझ नहीं पाए हैं। साथ ही निजामुद्दीन भट्ट ने कहा कि घाटी में शांति व्यवस्था बहाल करना मोदी सरकार के लिए भी बड़ी चुनौती है।

निजामुद्दीन भट्ट की बड़ी बातें..

- जम्मू-कश्मीर एक पार्टी की समस्या नहीं है

- कश्मीर के लोगों की समस्याओं को कभी समझा नहीं गया

- मुफ्ती मोहम्मद ने बहुत कठिन फैसला लिया, बीजेपी और हमारी सोच कभी मेल नहीं खाती

- कश्मीरियों में वाजपेयी के समय में विश्वास पैदा हुआ कि हम लोकतांत्रिक तरीके से रह सकते हैं

- बीजेपी-पीडीपी गठबंधन नाकाम नहीं है, यह सक्सेस है -

- 1 लाख लोग पीडीपी की सरकार बनाने से पहले कश्मीर में मर चुके थे

- कश्मीर में शांति बनाना नरेंद्र मोदी के लिए चुनौती है


Related Story

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top