News

सऊदी अरब में 20 से 40 साल की 25 लाख औरतें 'सिंगल ' हैं !

नई दिल्ली (2 अक्टूबर): एक सर्वे के अनुसार इस समय सऊदी अरब में 25 लाख से ज्यादा महिलाएं सिंगल स्टेटस के साथ  रह रही हैं। जिनकी उम्र 20 से 40 साल है। इनमें से कुछ तो अभी कुंवारी है। बाकी तलाकशुदा और विधवा हैं।

- दरअसल, महिलाओं के अधिकारों के मामले में सऊदी अरब का रिकॉर्ड ज्यादा अच्छा नहीं है।

- चाहे वह रोजमर्रा की जिंदगी हो। या फिर निजी जिंदगी। कई ऐसे काम हैं, जिन्हें करने की कानूनी अनुमति नहीं है।

- और जिनकी अनुमति है भी, उसे वे मर्दों के ताने-बाने के चलते कर नहीं पाती हैं।

- इसलिए बड़ी संख्या में महिलाएं अविवाहित ही रह जाती हैं। यहां करीब 25 लाख से भी ज्यादा महिलाएं बिना शादी के जीवन जी रही हैं।

- हालांकि सऊदी अरब में अकेली महिलाओं की दोबारा शादी करने का अधिकार है, महिला विरोधी नियम-कानूनों के चलते दोबारा शादी नहीं करतीं। 

- इसलिए कुछ सऊदी मर्दों ने आगे आकर एक संस्था बनाई है जो वे तलाकशुदा व विधवा महिलाओं को फिर से शादी के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

- उनकी शादी करवा रहे हैं। मैरिज पोर्टल भी बना रहे हैं। जिसकी मदद से महिलाएं शादी के लिए मर्द तलाश सकेंगी।

- इस संस्था को 100 लोगों ने मिलकर शुरू किया है। इसमें डॉक्टर, इंजीनियर, धार्मिक विद्वान, प्रोफेसर और आठ महिला सदस्य भी  हैं। 

- संस्थापक आतल्लाह अल अबार बताते हैं ‘हम पुरुषों को अकेली रहने वाली महिलाओं को लाइफ पार्टनर बनाने के लिए प्रेरित करेंगे।

- ताकि महिलाओं की दोबारा शादी हो सके। महिलाएं भी शादी के लिए पुरुषों का चयन कर सकती हैं।

- सऊदी अरब में महिलाएं औपचारिक रूप से काम करने या पैसे कमाने का हक नहीं रखती हैं।

- यदि फिर भी वे किसी प्रकार का काम करना चाहती हैं तो उन्हें पहले इस्लामी मामलों के मंत्रालय से अनुमति लेनी होती है। 

- बहुत से काम करना महिलाओं के लिए अपराध है। महिलाओं की मासिक आय पुरुषों की तुलना में बहुत कम है।

- जब सऊदी अरब ने पहली बार महिला एथलीट्स को लंदन ओलिंपिक में हिस्सा लेने भेजा था तो कट्टरपंथी नेताओं ने उन्हें यौनकर्मी कह कर पुकारा था।

- सऊदी अरब के धार्मिक कानूनों के मुताबिक महिलाओं की ड्राइविंग सामाजिक मूल्यों का उल्लंघन करना और अपराध है। 

- महिलाओं के घर से बाहर जाने पर मर्द का साथ होना जरूरी है। चाहे डॉक्टर के पास जाना हो या खरीदारी करने। 

- पहनावे के लिए नियम हैं। कपड़े तंग नहीं हो। सिर से पांव तक शरीर ढका हो। ज्यादा मेकअप नहीं होना चाहिए। 

- सार्वजनिक स्थानों पर औरतों और मर्दों के दरवाजे अलग-अलग होते हैं। वे एक रास्ते से नहीं जा सकती हैं।


Related Story

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top