पाक पर मोदी की चीन को दो टूक, कश्मीर में हमले हुए तो फिर दोहराया जायेगा 'बालाकोट'

Modi and XiJinping

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (13 जून): भारतीय प्रधानमंत्री मोदी ने चीन को साफ-साफ समझा दिया है कि अगर पाकिस्तान ने आतंकियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई और कश्मीर में दखल अंदाजी बंद नहीं की तो भारत से माकूल जवाब मिलेगा। शी जिनपिंग से बातचीत के दौरान मोदी ने भारत का रुख स्पष्ट करते हुए कहा कि अगर आतंकी हमले न रुके तो पाकिस्तान में बालाकोट जैसी कार्रवाई दोहरायी जाती रहेंगी।  ध्यान रहे पहले भारत ने पाकिस्तान से बिश्केक जाने के लिए पाकिस्तान से रास्ता मांगा था लेकिन इसी बीच अमरनाथ यात्रा वाले मार्ग पर अनंतनाग में दो पाकिस्तानी आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर अचानक हमला कर दिया। इस हमले में पांच सुरक्षाकर्मी शहीद हो गये थे। मोदी ने इस हमले के तुरंत बाद मोदी ने बिश्केक जाने के लिए पाकिस्तान के आकाश से जाने का फैसला टाल दिया। ऐसा बताया जाता है कि चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने मोदी को भरोसा दिलाया है कि वो पाकिस्तान पर आतंकी गतिविधियां खत्म करने का दबाव बनायेगा। बहरहाल, मोदी और शी के बीच सबसे महत्वपूर्ण चर्चा इस बात पर हुई की मित्रता की 70वीं वर्षगांठ पर दोनों देशों के बीच 70 कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। इनमें से 35 भारत में और 35 चीन में होंगे। विदेश सचिव विजय गोखले ने बताया कि पीएम और राष्ट्रपति शी विशेष तौर पर इसके लिए सहमत हुए हैं कि दोनों देशों को इन संबंधों से और बेहतर उम्मीदें हैं। दोनों नेता वुहान समिट की सफलता को लेकर भी सहमत हुए। इसी कड़ी में पीए मोदी ने राष्ट्रपति शी को अगली अनौपचारिक समिट के लिए भारत आने का निमंत्रण दिया है। राष्ट्रपति शी इसी साल भारत के दौरे पर आएंगे। इस दौरान पीएम मोदी के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल भी मौजूद थे।

गोखले ने बताया, 'पीएम मोदी ने कहा कि यह दोनों देशों के बीच बेहतर हो रहे संबंधों का ही नतीजा है कि लंबे समय से लंबित पड़े मुद्दों को सुलझा लिया गया है। इनमें बैंक ऑफ चाइना की भारत में ब्रांच खोलने और मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी लिस्ट में शामिल करने के मुद्दे प्रमुख हैं।'नरेंद्र मोदी के दूसरी बार देश का प्रधानमंत्री बनने के बाद चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से यह उनकी पहली मुलाकात थी। प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से आए एक ट्वीट में कहा गया, 'चीन के साथ संबंध और गहरे हो रहे हैं। एससीओ समिट के इतर पीएम मोदी की पहल मुलाकात चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ हुई। दोनों नेताओं ने संबंधों को और मजबूत बनाने पर बात की।' इसके अलावा खुद पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, 'राष्ट्रपति शी के साथ एक बेहद सफल मुलाकात हुई। हमारी बातचीत में भारत-चीन संबंधों पर गंभीर चर्चा हुई। दोनों देशों के बीच आर्थिक और सांस्कृतिक संबंधों को और मजबूत करने के प्रयास किए जाएंगे।

Images Courtesy:Google