Blog single photo

उद्धव बोले- बीजेपी साथ रहे या कोई और साथ आये, सीएम तो शिवसेना का ही होगा !

महाराष्ट्र की राजनीति के सबसे पुराने गठबंधन में दरार पड़ गयी है। मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर समान विचारधारा वाले दोनों एक दूसरे के आमने-समाने हैं। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे बीजेपी को परोक्ष चेतावनी दी है कि बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी है राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश करे वरना बाकी लोगों के लिए विकल्प खुले हुए हैं। उद्धव ने कहा है हमने अभी गठबंधन नहीं तोड़ा है।

दीपक दुबे, न्यूज 24 ब्यूरो, मुंबई (8 नवंबर): महाराष्ट्र की राजनीति के सबसे पुराने गठबंधन में दरार पड़ गयी है। मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर समान विचारधारा वाले दोनों एक दूसरे के आमने-समाने हैं। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे बीजेपी को परोक्ष चेतावनी दी है कि बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी है राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश करे वरना बाकी लोगों के लिए विकल्प खुले हुए हैं। उद्धव ने यह भी कहा है शिवसेना ने बीजेपी से अभी गठबंधन नहीं तोड़ा है। बीजेपी गठबंधन बचाना चाहती है तो शपथ लेकर कहे कि आगे झूठ नहीं बोलेगी। उन्होंने यह भी कहा कि उन्होंने अभी तक एनसीपी से सरकार बनाने केलिए कोई बात नहीं की है। 

हालांकि, जिस समय उद्धव मीडिया से बात कर रहे थे ठीक उसी वक्त संजय राउत सिल्वर ओक में शरद पवार के साथ बैठक कर रहे थे। महाराष्ट्र के निवर्तमान मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस की प्रेस कांफ्रेंस के बाद शिवसेना प्रमुख उद्धव मीडिया के सामने आये और उन्होंने कहा है बीजेपी ने मणिपुर, गोवा और कर्नाटक में तोड़-फोड़ से सरकार बनायी है। महाराष्ट्र में बीजेपी हमें खत्म करने की योजना बना रहे थे। अगर बीजेपी के पास बहुमत है तो तुरंत सरकार बनाने का दावा करे नहीं तो सबके पास विकल्प खुले हुए हैं। यह बात बोलकर उद्धव ने सीधे-सीधे संकेत दे दिये कि वो एनसीपी और कांग्रेस के सहयोग से सरकार बनाने जा रही है। क्यों कि जिस समय उद्धव प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित कर रहे थे उसी समय संजय राउत की एनसीपी चीफ शरद पवार से वार्ता चल रही थी। संजय राउत के बाद महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष थोराट भी शरद पवार से मिलने उनके घर पुहंचने वाले थे।

उद्धव ने मीडिया के सामने फड़णवीस के उस आरोप को स्वीकार किया जिसमें उन्होंने कहा था कि उद्धव दूसरों से बात करते रहे और मेरे फोन भी नहीं उठाए। उद्धव ने कहा कि- हां, मैंने फोन नहीं उठाया क्यों कि आप झूठ बोलते हो। उद्धव ने कहा कि शिव सैनिक कभी झूठ नहीं बोलता। यह पहली बार है कि किसी ने ठाकरे परिवार पर झूठ बोलने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि अमित शाह ने मुझे से पूछा था क्या चाहिएमैंने कहा था ढाई ढाई साल का मुख्यमंत्री चाहिएउन्होंने कहा था ठीक हैफिर मैने कहा की आप ने जो उसे कहा सर्वजनीक करो , फिर अमित शाह ने फड़नवीस को बताया थासच झूठ के लिए मुझे किसी के सर्टिफिकेट की जरुरे नहींमीठा बोल के हमें ख़त्म करने की कोशिश की गयी थीमहाराष्ट्र की जानता के सामने मै एक बालासाहेब का झूठ बेटे के तौर पर नहीं जा सकताइसलिए मुझे जो ठीक लगेगा वो करूँगा2019 में भी हमने हेवी इंडस्ट्री के लिए मना किया था लेकिन फिर से हमारे गले में वही मंत्रालय बंधवा दिया। हमें 124 सीट दी गयी हमने वो भी स्वीकार कर ली। उद्धव नेकहा कि मैंने बालासाहेब को वचन दिया था कि एक दिन मुख्यमंत्री शिवसेना का होगा। शिवसेना को अमित शाह और फड़णवीस के आशीर्वाद की जरूरत नहीं है। 

Images Courtesy: Google

Tags :

NEXT STORY
Top