मई की गर्मी बर्दाश्त कर सकता है कर्नाटक, लेकिन कांग्रेस की सरकार नहीं- PM मोदी

नई दिल्ली (3 मई): कर्नाटक में चुनाव के महज 9 दिन बचे हैं। लिहाजा राज्य में चुनाव प्रचार जोरों पर हैं। बीजेपी ओर प्रधानमंत्री ने खुद चुनाव प्रचार का जिम्मा संभाल रखा है। इसी कड़ी में प्रधानमंत्री ने आज कुलबर्गी में चुनावी रैली को संबोधित किया। चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कांग्रेस और राज्य की सिद्धारमैया सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस सरकार के प्रति गुस्सा चारों तरफ दिखाई दे रहा है। कर्नाटक की जनता का संकल्प है कि पांच साल तबाह हो गये, अब एक पल भी कर्नाटक को बर्बाद नहीं होने देना है। कुलबर्गी की दाल पूरे भारत में ब्रांड बन गया है। येदियुरप्पा के नेतृत्व में किसानों की सरकार बनेगी और यहां की जनता के दालों का उचित दाम मिलेगा। उन्होंने कहा कि हमने पहले ही घोषणा कर दी है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य से डेढ़ गुना देंगे। कांग्रेस ने स्वामिनाथन की रिपोर्ट को आलमीरा में रखने का काम किया, हमने तो निकाल कर उसे लागू किया।साथ ही प्रधानमंत्री ने कहा कि आजादी के बाद पहली बार देश की जनता को देशव्यापी विकल्प के रूप में भारतीय जनता पार्टी के प्रति एक नया उमंग और विश्वास पैदा हुआ है। यहा चुनाव हमारे क्षेत्र में कौन विधायक बने और न बने, कौन हारे-कौन जीते, इस छोटे काम के लिए नहीं है. यह चुनाव कर्नाटक के नौजवानों का भविष्य तय करने के लिए है। यह चुनाव किसानों के लिए है।प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने बेशर्मी के साथ सर्जिकल स्ट्राइक पर भी सवाल उठाए। हमारे वीर जवानों पाकिस्तानी सेना के छक्के छुड़ाए, मगर कांग्रेस है कि सेना पर भी सवाल उठाती है। मैं कहना चाहता हूं कि अगर जवाब चाहिए तो पाकिस्तान जाइए जहां, उनके मुर्दे गड़े थे। उन्होंने कहा कि फील्ड मार्शल करिअप्पा का भी कांग्रेस ने अपमान किया है। सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भी कांग्रेस के एक नेता ने जवानों को गुंडा कह दिया। क्या हमारी सेना को, देश की रक्षा के लिए मर मिटने वाले जवानों को कभी कोई गुंडा कहने का पाप कर सकते हैं क्या, क्या कांग्रेस ने अपने नेता को निकाला क्या, जिसने जवानों का अपमान किया। जय जवान जय किसान सेना को ताकत देता है।