इस्लाम की तौहीनी पर ऑन लाइन गेम पबजी के खिलाफ फतवा जारी

PUBG - FATWA

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (19 जून): ऑनलाइन गेम पबजी के खिलाफ इंडोनेशिया में इस्लामी कानूनों के जानकारों द्वारा फतवा जारी किया गया है। उनका मानना है कि इससे इस्लाम की तौहीन होती है और इसकी लत पालने वाले लोग हिंसक हो जाते हैं। यह फतवा यहां के रूढ़िवादी प्रांत आसेह में जारी हुआ है। इससे पहले यह खेल ईराक, नेपाल और भारत के गुजरात में प्रतिबंधित हो चुका है। इसे बैन करने के पीछे तर्क दिया गया कि इससे वास्तविकता में हिंसा को बढ़ावा मिल सकता है।इंडोनेशिया की ताकतवर उलेमा परिषद की आसेह शाखा ने स्थानीय लोगों से आग्रह किया कि वे इस खेल से दूर रहें और सरकार से इस पर प्रतिबंध लगाने की मांग की।  इंडोनेशिया के अलावा कुछ और इस्लामिक देशों में भी पबजी पर प्रतिबंध लगाने की मांग उठ चुकी है। कुछ लोगों का कहना है कि पबजी युवाओं और बच्चों की मानसिकता को प्रभावित कर रहा है। उनमें कुछ न करने और आलस्य की भावना भी पैदा हो रही है। इसकी लत ऐसी है कि युवा 24-24 घण्टे पबजी ही खेलते रहते हैं।

 पबजी गेम के प्रति युवाओं का लगाव नशे की तरह बढ़ रहा है। इस ऑनलाइन गेम को मोबाइल और डेस्कटॉप दोनों में खेला जा सकता है। इसके एक गेम में देश-विदेश के 100 लोग एकसाथ खेलते हैं। उनमें से आखिर तक जिसका प्लेयर जिंदा रहता है वह गेम जीत जाता है। इस गेम पर हिंसा को बढ़ावा देने का आरोप भी लगता रहा है क्योंकि इसमें प्लेयर को बंदूक, बम आदि से दूसरे प्लेयर को मारना होता है। भारत में कई ऐसे मामले आए जहां मौत या आत्महत्या की वजह पबजी बताई गई।Images Courtesy:Google