भारत-पाक सीमा पर रहेगी शांति, अब नहीं होगा सीजफायर उल्लंघन

नई दिल्ली (30 मई): भारत-पाकिस्तान सीमा पर अब गोलीबारी नहीं होगी। दोनों देशों के डीजीएमओ स्तर की बातचीत में संघर्षविराम पर सहमति बन गई है। भारत और पाकिस्तान के डायरेक्टर जनरल ऑफ मिलिट्री ऑपरेशंस  के बीच 2003 के सीजफायर समझौते को पूरी तरह से लागू करने पर सहमति बन गई है। साथ ही दोनों पक्ष जम्मू और कश्मीर में सीमा पार गोलीबारी रोकने पर भी राजी हो गए हैं।भारतीय सेना के मुताबिक दोनों सैन्य कमांडरों ने जम्मू कश्मीर में एलओसी और इंटरनेशनल बॉर्डर पर मौजूदा स्थिति की समीक्षा की। दोनों देशों के अधिकारियों ने मंगलवार शाम  को स्पेशल हॉटलाइन पर बातचीत की। बताया जा रहा है किबातचीत की पहल पाकिस्तान की तरफ से की गई। बातचीत के बाद दोनों सेनाओं ने बयान जारी कर कहा कि दोनों देश 15 साल पुराने संघर्ष विराम समझौते को पूरी तरह से लागू करने पर सहमत हुए हैं। साथ ही, यह सुनिश्चित किया जाएगा कि दोनों ओर से संघर्ष विराम का उल्लंघन ना हो। दोनों डीजीएमओ इस बात पर भी सहमत हुए कि कोई मुद्दा उठने पर संयम रखा जाएगा और उस विषय का हॉटलाइन संपर्क तथा स्थानीय कमांडरों की फ्लैग मीटिंग के मौजूदा तंत्र के जरिए हल किया जाएगा।आपको बता दें कि पिछले कुछ महीनों में एलओसी पर गोलाबारी की घटनाएं बढ़ गई हैं। इस साल अब तक पाकिस्तानी सेना की तरफ से सीजफायर उल्लंघन की कुल 908 घटनाएं हो चुकी हैं। जबकि साल 2017 में कुल 860 सीजफायर उल्लंघन की घटनाएं हुई थीं।