यूएई को आया इमरान पर तरस, करेगा आठ अरब डॉलर की मदद

Photo: Google 


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (22 दिसंबर): 
इस समय पाकिस्तान की आर्थिक हालत काफी खस्ता है। अमेरिका से मदद नहीं मिलने के बाद इमरान सरकार के पास देश चलाने के लिए भी पैसे नहीं है। ऐसे में वह अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) से ऋण मांग रहा है, लेकिन अमेरिका ने यहां भी अड़गा लगा दिया है। उसकी इस स्थिति पर संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) को तरस आ गया है और उसने उसे कुछ आर्थिक मदद की है।

यूएई ने पाकिस्तान को उसके वित्तीय संकट से उबारने में मदद के लिए तीन अरब अमेरिकी डॉलर की राशि देने की घोषणा की है। इससे पाकिस्तान को अपनी मौद्रिक एवं वित्तीय नीतियों के लिए सहायता मिलेगी। सरकारी मीडिया ने शुक्रवार को इस संबंध में खबरें दी हैं। यूएई की यह घोषणा इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि पाकिस्तान ने हाल ही में अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) से अपने संकट से उबरने के लिए आठ अरब डॉलर की मदद मांगी थी, जिसे लेकर बातचीत चल रही है। हालांकि दोनों पक्षों के बीच इस संबंध में हाल में हुई बैठक बेनतीजा रही।

वैम संवाद एजेंसी के मुताबिक आने वाले दिनों में सरकार के स्वामित्व वाले अबूधाबी विकास कोष (एडीएफडी) से स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान के खाते में 11 अरब दिरहम यानी तीन अरब अमेरिकी डॉलर की राशि भेजी जा सकती है। इसके अलावा सऊदी अरब ने भी पाकिस्तान को तीन अरब अमेरिकी डॉलर की मदद करने की घोषणा की है। पाकिस्तान में इमरान खान की सरकार आर्थिक संकट का मुकाबला करने के लिए जूझ रही थी। इमरान खान इस सिलसिले में मदद मांगने के लिए यूएई गए थे। आईएमएफ से राहत मिलने में देरी के बीच यूएई से मिले ये मदद पाकिस्तान के लिए बहुत बड़ी राहत साबित होगी।

आपको बता दें कि इससे पहले सऊदी ने पाकिस्तान को 1 अरब डॉलर की आर्थिक सहायता दी थी, जिसकी पुष्टि पाकिस्तान के एक अधिकारी ने भी की थी।