जंग पर उतारू पाकिस्तान, इमरान ने सेना को दिए ये आदेश



Image source google

न्यूज 24 नई दिल्ली (फरवरी 21): पुलवामा हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तकरार बढ़ता ही जा रहा है। आज बड़ा फैसला लेते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने देश की सेना को अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर खुली छूट दे दी है। उन्होंने कहा है कि सीमा पार से भारतीय सेना कोई कार्रवाई करती है तो पाकिस्तानी सेना को उसका जवाब देना होगा। इसके साथ ही पाकिस्तान ने यह संदेश दिया है कि पुलवामा हमले की स्क्रिप्ट जम्मू-कश्मीर में ही लिखी गई थी।

बता दें कि पुलवामा हमले के बाद भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सेना को खुली छूट देने की बात कही थी। पाकिस्तान की ओर से यह संदेश आने से पहले पाकिस्तानी सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा ने प्रधानमंत्री इमरान खान से मुलाकात की थी। एआरवाई न्यजू चैनल के मुताबिक दोनों की यह मुलाकात राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की अहम बैठक से पहले हुई है।रिपोर्ट के मुताबिक दोनों के बीच चली मुलाकात में देश और इससे सटे इलाकों की सुरक्षा के बारे में प्रमुखता चर्चा हुई है।


 बैठक की अध्यक्षता पीएम इमरान खान ने की। इस उच्च स्तरीय बैठक में जनरल बाजवा, सर्विसेज चीफ, खुफिया एजेंसियों के प्रमुख और सुरक्षा अधिकारियों ने हिस्सा लिया। दौरान पाकिस्तान के वित्त मंत्री असद उमर, रक्षा मंत्री परवेज खटक, विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी, गृह राज्य मंत्री शहरयार अफरीदी और अन्य नेता मौजूद रहे।

बुधवार को प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि देश की संप्रभुता के सवाल पर कोई समझौता नहीं किया जाएगा। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ की बैठक की अध्यक्षता करते हुए प्रधानमंत्री खान ने कहा कि पुलवामा हमले पर हमने हिंदुस्तान को स्पष्ट संदेश दे दिया है।


विदेश सचिव गोखले ने कहा कि पाकिस्तान को जैश-ए-मोहम्मद के खिलाफ फौरन कदम उठाना चाहिए और पाकिस्तान की धरती से चलने वाले और आतंकी कारस्तानियों शामिल समूहों और लोगों पर तत्काल कार्रवाई करनी चाहिए। गौरतलब है कि पुलवामा हमले के तुरंत बाद जैश-ए मोहम्मद ने इसकी जिम्मेदारी ली थी। विदेश सचिव ने पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के उस बयान को भी खारिज कर दिया, जिसमें पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने फिदायीन हमले में किसी भी तरह की संलिप्तता से इनकार किया है।