News

सावधान: इन 10 चीजों को खाने से बढ़ता है हार्ट अटैक का खतरा

हमारा दिल बिना रूके जिंदगीभर काम करते रहता है और जिस दिन यह काम करना बंद करता है उसी वक्त इंसान की जिंदगी खत्म हो जाती है। ऐसे में हमारे लिए दिल का खयाल रखना बेहद जरूरी है।

पाोीू ोूूोमक

Image Credit: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (10 जून): हमारा दिल बिना रूके जिंदगीभर काम करते रहता है और जिस दिन यह काम करना बंद करता है उसी वक्त इंसान की जिंदगी खत्म हो जाती है। ऐसे में हमारे लिए दिल का खयाल रखना बेहद जरूरी है। बावजूद इसके हम अपने खान-पीने की आदतों की वजह से इसे बिमार करते रहते हैं। ऐसे में हमें अपने दिल को सेहत मंद रखने के लिए ऐसे खानों से परहेज करना चाहिए। डाइट में सुधार से हम कोलेस्‍ट्रॉल लेवल और ब्‍लड प्रेशर ठीक कर सकते हैं।

दिल के सेहतमंद रखने के लिए हमें इन 10 ऐसी चीजों परहेज करना चाहिए...

- आलू और मकई के चिप्‍स में भरपूर मात्रा में ट्रांस फैट, सोडियम, कार्ब्‍स और ऐसी बहुत सी चीजें पाई जाती हैं जो दिल के लिए बिलकुल भी ठीक नहीं है। रिसर्च से पता चला है कि जो लोग दिन में 200 मिलिग्राम से ज्‍यादा सोडियम खाते हैं वो दिल की बीमारी से मरने वाले 10 लोगों में से एक होते हैं। आलू और मकई के चिप्‍स में सैचुरेटेड फैट होता है जो पेट बढ़ने का सबसे बड़ा कारण है। यही नहीं इन चिप्‍स में जरूरत से ज्‍यादा नमक होता है जो दिल की कई बीमारियों के लिए जिम्‍मेदार है। - एनर्जी ड्रिंक्‍स में ग्‍वाराना और टॉराइन जैसे नैचुरल एनर्जी बूस्‍टर्स होते हैं। ये जब कैफीन के संपर्क में आते हैं तो आपके दिल की धड़कन एकदम से बढ़ जाती है। एनर्जी ड्रिंक्‍स में बहुत ज्‍यादा मात्रा में कैफीन होती है जिससे अतालता की शिकायत होती है। अतालता का मतलब है दिल की धड़कनों की लय में परिवर्तन से है। - सोडा पीने से जलन होने के साथ ही ब्‍लड शुगर लेवल बढ़ सकता है। यही नहीं सोडा आर्टरी की दीवारों पर तनाव पैदा कर दिल की बीमारी का खतरा बढ़ाता है। रोजाना के खान-पान में सोडा का इस्‍तेमाल जानलेवा साबित हो सकता है। - ब्‍लेंडेड कॉफी में काफी मात्रा में कैलोरीज़ और फैट पाया जाता है। इसमें मौजूद चीनी ब्‍लड शुगर लेवल को बढ़ाता है। यही नहीं इस तरह की कॉफी में मौजूद कैफीन भी ब्‍लड शुगर लेवल बढ़ा देती है और इसका सेवन खासतौर पर डायबिटीज और हार्ट पेशंट के लिए बहुत ज्‍यादा हानिकारक है। - किसी भी तरह के तले-भुने खाने में भरपूर मात्रा में ट्रांस फैट पाया जाता है। यह न सिर्फ हमारी हेल्‍थ के लिए खतरनाक है बल्‍कि हमारी कमर को जरूरत से ज्‍यादा चौड़ा करने के लिए भी जिम्‍मेदार है। इस तरह की चीजें हमारे शरीर में ऑक्‍सीडेंट ले आती हैं जो एंटी-ऑक्‍सीडेंट की दुश्‍मन हैं। खाने को डीप फ्राई करने के लिए गरम तेल का इस्‍तेमाल किया जाता है। गरम तेल भोजन के विटामिन और एंटीऑक्‍सीडेंट को नष्‍ट कर ऐसे ऑक्‍सीडेंट बनाता है जिससे कोशिकाओं को नुकसान पहुंचता है। - पिज्‍जा में भरपूर मात्रा में कार्बोहाइड्रेट और सोडियम पाया जाता है। पिज्‍जा में मौजूद चीज़ इस सोडियम और फैट को और ज्‍यादा बढ़ाने का काम करती है। यही नहीं पिज्‍जा सॉस में भी जरूरत से ज्‍यादा सोडियम होता है। इन चीजों के सेवन से आर्टरी ब्‍लॉक हो सकती है।

- मार्जरीन का इस्‍तेमाल मक्‍खन के विकल्‍प के तौर पर किया जाता है। इसे हाइड्रोजनेटेड ऑयल से बनाया जाता है, जो ट्रांस फैट का प्रमुख स्रोत है। यह हमारे शरीर के कोलेस्‍ट्रॉल को बढ़ा देता है। यह न केवल हमारी दिल की सेहत के लिए हानिकारक है बल्‍कि यह स्किन एजिंग प्रॉसेस को तेज कर देता है।

- चाइनीज़ फूड कैलोरी, फैट, सोडियम और कार्बोहाडड्रेट से भरपूर होता है। यह हमारे शरीर के ब्‍लड शुगर लेवल को लंबे समय के लिए बढ़ा देता है। यानी कि आप एक बार चाइनीज़ फूड खाएंगे और लंबे समय तक आपका ब्‍लड शुगर लेवल बढ़ा रहेगा। 

- दो मिनट में बनने वाले इंस्‍टेंट नूडल्‍स शरीर को खासा नुकसान पहुंचाता है। इंस्‍टेंट नूडल्‍स की पैकिंग करने से पहले उन्‍हें डीप फ्राइड किया जाता है, जो आपके दिल के लिए तो किसी भी लिहाज से अच्‍छा नहीं है। यही नहीं इसमें नमक भी बहुत ज्‍यादा होता है। रिसर्च के मुताबिक इंस्‍टेंट नूडल के एक पैकेट में 875 मिलिग्राम सोडियम पाया जाता है। यह मात्रा दिनभर के सोडियम इनटेक के बराबर है। ज्‍यादा नमक खाने से ब्‍लड प्रेशर बढ़ जाता है जिससे दिल पर दबाव बढ़ने लगता है। 

- लाल मांस यानी कि रेड मीट में ढेर सारा सैचुरेटेड फैट, कोलेस्‍ट्रॉल और नमक होता है। ऐसे में लाल मांस महीने में एक बार खाने की सलाह दी जाती है।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top