इंद्र देवता को खुश कर बारिश कराने के लिए 41 महायज्ञ कराएगी रुपाणी सरकार

अहमदाबाद (25 मई): इन दिनों देशभर में गर्मी कहर बरपा रही है। इस जानलेवा गर्मी से बचने, सुखे से निपटने और अच्छी बारिश के लिए गुजरात की रुपाणी सरकार दैवीय शक्ति का सहारा लेने जा रही है। खबरों के मुताबिक राज्य में अच्छी बारिश के लिए मुख्यमंत्री विजय रुपाणी राज्य के 33 जिलों को 41 जगहों पर 'परजान्य यज्ञ' कराने की तैयारी में जुटी है। रुपानी सरकार का कहना है कि 'परजान्य यज्ञ' से बारिश के देवता इंद्र को खुश होंगे और राज्य में अच्छी बारिश होगी।आपको बता दें कि गुजरात में इस समय पानी की बड़ी समस्या है। राज्य के 204 बांधों में महज 29 फीसदी पानी ही बचा है। इन बांधों की कुल क्षमता 25,227 मीलियन क्यूबिक मीटर है।गौरतलब है कि रुपाणी सरकार राज्य में 'सुजलम सुफलम जल अभियान' चला रही है। राज्य सरकार इस अभियान के नदियों, तालाबों, झीलों, नहरों और अन्य पानी के स्रोतों को मानसून सीजन से पहले गहरा कराया है ताकि इसमें ज्यादा से ज्यादा बारिश का पानी इकट्ठा हो सके। इस यज्ञ के साथ ही गुजरात सरकार की एक महीने लंबी 'सुजलम सुफलम जल अभियान' को समाप्ति करने की योजना बना रही है।