News

एक और विवादों में फंसे कोरियोग्राफर गणेश आचार्य

अभिनेत्री तनुश्री दत्ता केस के बाद कोरियोग्राफर गणेश आचार्य एक और विवादों में फंसते दिख रहे हैं। एक महिला असिस्टेंट कोरियोग्राफर ने गणेश आचार्या पर गंभीर आरोप लगाया है। महिला असिस्टेंट कोरियोग्राफर ने आरोप लगाया है कि गणेश आचार्य उसे पोर्न फिल्म देखने के लिए कहते थे और उनके कहने पर कुछ लोगों ने उसके साथ मारपीट भी की

Ganesh Acharya

(Image Credit: Google)

दीपक दुबे, न्यूज 24 ब्यूरो, मुंबई (28 जनवरी): अभिनेत्री तनुश्री दत्ता केस के बाद कोरियोग्राफर (Choreographer) गणेश आचार्य (Ganesh Acharya) एक और विवादों में फंसते दिख रहे हैं। एक महिला असिस्टेंट कोरियोग्राफर (Assistant Choreographer) ने गणेश आचार्या पर गंभीर आरोप लगाया है। महिला असिस्टेंट कोरियोग्राफर ने आरोप लगाया है कि गणेश आचार्य उसे पोर्न वीडियो (Porn Videos) देखने के लिए कहते थे और उनके कहने पर कुछ लोगों ने उसके साथ मारपीट भी की। महिला कोरियोग्राफर ने  गणेश आचार्य के खिलाफ महाराष्ट्र महिला आयोग और मुम्बई के अंबोली पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है।

पीड़िता का आरोप है कि गणेश आचार्य साल 2019 में IFTCA में एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी बनने पर हर डांसर से हर डांस सांग के लिए 500 रुपये की मांग करते थे, जिसे देने से उसने मना कर दिया। उसके बाद गणेश आचार्य ने उसे खुद का असिस्टेंट बनने के लिए कहा, लेकिन उसने स्वत्रंत रूप से काम करने की बात कह कर मना दिया। जिससे वो नाराज हो गए। पीड़िता का आरोप है कि जब भी वह काम के सिलसिले में वो गणेश आचार्य के ऑफिस जाती तो वो पोर्न वीडियो देख रहे होते और उसे भी देखने के लिए कहते। लगातार मना करने के बाद उन्होंने IFTICA से उसकी सदस्यता कैंसल करवा दी। उसके बाद वो जहां भी काम करने जाती लोग उसे पहले गणेश से झगड़े निपटाने की बात कहकर काम देने से मना कर देते। जिसकी वजह से करीब 2 महीने से उसे कोई काम नहीं मिला है।

साथ ही पीड़िता का आरोप है कि गणेश आचार्य जब से कोरियोग्राफर एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी बने है तब से लगातार उसे परेशान कर रहे है। यहां तक कि जब  उसने उनकी बात नहीं मानी तो गणेश आचार्य ने अपने पद का इस्तेमाल करके उसकी एसोसिएशन से सदस्यता भी खत्म करवा दी। जिससे उनकी आमदनी रुक गई। वो जिस किसी कोरियोग्राफर के पास काम मांगने जाती तो सब पहले गणेश आचार्य से विवाद के निपटारे की सलाह देते। उसके बाद काम की बात करते, आखिरकार 26 जनवरी को रहेजा क्लासिक क्लब में एक कार्यक्रम के दौरान जब दूसरे सारे इंडस्ट्री के कोरियोग्राफर इकट्ठा थे तो पीड़िता भी वहां पहुंची और उन्होंने गणेश आचार्य से अपनी सदस्यता रद्द करने के पीछे का कारण पूछा। उसकी  सदस्यता क्यों रद्द की, किस वजह से की जबकि उन्होंने एक लाख रुपये सदस्यता का पेमेंट किया हुआ है।

पीड़िता का कहना है कि 26 जनवरी को IFTICA की एसजीएम थी, जिसमें वह अपनी बात कहने के लिए वहां पहुंची, लेकिन गणेश आचार्य ने कहा कि वो यहां की सदस्य नहीं है लिहाजा वो यहां से चली जाएं। गणेश आचार्य के कहने पर दो लोगों ने उसके साथ मारपीटी की, जो वहां लगे सीसीटीवी में कैद हो गई। फिलहाल पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है। वहीं गणेश आचार्य ने अपने उपर लगे सभी आरोपों को सिरे से खारिज किया है। गणेश आचार्य का कहना है कि मेरे ऊपर लगाए गए आरोप गलत हैं। लड़की हमारे संस्थान की मेम्बर अब नहीं है, जो सबूत है वो दें फिर हम देखेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि सरोज खान के इशारे पर उनपर ये आरोप लगाए जा रहे हैं। ये लोग हमारी संस्था को चलने नहीं देना चाहते हैं।

यह भी पढ़े :  पद्मश्री मिलने पर अदनान सामी विवादों में,जानिए वजह


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top