ट्रंप-किम मुलाकात का खर्च उठाएगा सिंगापुर, इतने करोड़ डालर का आएगा खर्च

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 10 जून ):  अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से 12 जून को होने वाली ऐतिहासिक शिखर वार्ता के लिए उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन सिंगापुर पहुंच चुके हैं। इस हाई लेवल मीटिंग के चलते सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है, चप्पे-चप्पे पर नजर रखी जा रही है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के बीच बातचीत के लिए सिंगापुर को शायद इसलिए चुना गया क्योंकि सिंगापुर की छवि सख्त नियम और कानून वाले देश की है। यहां ऐतिहासिक शिखर वार्ता के लिए चल रही तैयारियों से लगता है कि यह दोनों देशों की उम्मीदों पर खरा उतरेगा। 

सिंगापुर पहुंचने के बाद किम जोंग उन ने सिंगापुर के पीएम ली लूंग से मुलाकात की। ली लूंग ने आज इस बात की पुष्टि करते हुए कहा कि ट्रंप-किम की समिट में सिंगापुर 2 करोड़ डॉलर का खर्च उठाएगा। 

नॉर्थ कोरिया परमाणु हथियारों के कारण संयुक्त राष्ट्र परिषद द्वारा कई प्रतिबंधों का सामना कर रहा है। साथ ही अमेरिका भी उसे कई बार सैन्य कार्रवाई की धमकी दे चुका है। ट्रंप और किम की इस मुलाकात में नॉर्थ कोरिया के 65 सालों से उसके 'साम्राज्यवादी दुश्मन' के खिलाफ चल रहे अघोषित युद्ध का औपचारिक समापन भी करेगा। 

किम और ट्रंप की इस ऐतिहासिक वार्ता में प्योंगयांग के परमाणू शस्त्रागार का मुद्दा शीर्ष पर होगा> अमेरिका की मांग है कि नॉर्थ कोरिया पूर्ण रूप से परमाणू हथियारों का निरस्त्रिकरण करे। इसी के चलते अमेरिकी राष्ट्रपति ने पहले ही साफ कह दिया है कि उत्तर कोरिया के पास यह 'आखिरी मौका' है।