लोकसभा चुनाव 2019 से पहले दिल्ली को मिलेगा पूर्ण राज्य का दर्जा- अरविंद केजरीवाल

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (11 जून):  दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने के प्रस्ताव को दिल्ली विधानसभा ने भी अपनी मंजूरी दे दी। विशेष सत्र के अंतिम सदन की कार्यवाही में शामिल हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने अपना वक्तव्य भी दिया। इसी के साथ दिल्ली विधानसभा का चार दिवसीय विशेष सत्र सोमवार को समाप्त हो गया।उन्होंने केंद्र सरकार और उपराज्यपाल पर जमकर निशाना भी साधा। उन्होंने कहा कि दिल्ली पूर्ण राज्य होता तो केंद्र और उपराज्यपाल कोई भी काम नहीं रोक पाते।

इस मौके पर अरविंद केजरीवाल ने कहा- 'मैं भाजपा को कहना चाहता हूं कि 2019 लोकसभा चुनाव से पहले दिल्ली को पूर्व राज्य के दर्जे की मंजूरी मिल जाएगी। हम पूरी तरह निश्चित हैं, क्योंकि हर किसी का वोट इसके समर्थन में जाएगा। हम इसके समर्थन में प्रचार भी करेंगे।' भाजपा को निशाने पर लेते हुए केजरीवाल ने कहा कि अगर दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा नहीं मिलता तो दिल्ली की जनता कहेगी 'भाजपा दिल्ली छोड़े'।इससे पहले दिल्ली विधानसभा के विशेष सत्र के अंतिम दिन सोमवार को भी सदन में जमकर हंगामा हुआ। दिल्ली विधानसभा में काम रोको प्रस्ताव को स्वीकार नहीं किए जाने पर विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। वहीं, विधानसभा अध्यक्ष राम निवास गोयल ने विपक्ष के नेता विजेंद्र गुप्ता व मनजिंदर सिंह सिरसा को मार्शलों की मदद से सदन से बाहर निकलवाया। विजेंद्र गुप्ता सदन में काम रोको प्रस्ताव लाए थे। विजेंद्र गुप्ता जनलोकपाल बिल पर जवाब मांग रहे थे।