लोकसभा में 250 सीट लाने के लिए कांग्रेस ने बनाया ये प्लान

                                                                       Photo:Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (19 फरवरी): आगामी लोकसभा चुनाव से पहले सारे पॉलिटिकल पार्टियां युवा वोटरों के रिझाने में लगी हुई है। कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव से पहले अपनी कसर कस ली है। कांग्रेस पार्टी का फोक्स 18 से 35 साल के युवाओं पर है। भाजपा के लोकसभा चुनाव में घेरने के लिए कांग्रेस ने पंचायत लेवल पर युवा कार्यकर्ताओं में जोश भरने का मन बनाया है। लोकसभा की 250 सीटों को चिंहित किया गया है। जिसमें ज्यादातर सींटों पर नॉन-कांग्रेसी हैं। इसके लिए पुराने अनुभवी नेताओं और आईटी एक्सपर्ट युवाओं को तलाशा जा रहा है।

दावा किया जा रहा है कि चुनाव से पहले बूथवार मतदाताओं की स्क्रीनिंग कर उन्हें पार्टी पक्ष में वोट करने के लिए अपील की जाएगी। जहां भाजपा बूथ कार्यकर्ताओं को फीडबैक लेने की जिम्मेदारी दे रही है, वहीं कांग्रेस जिले के सभी बूथों की जिम्मेदारी पुराने कद्दावर नेताओं को दे रही है। इतना ही नहीं प्रत्येक पंचायत स्तर पर आईटी टीम तैयार की जाएगी जो केंद्र सरकार की नाकामियों को मतदाता तक पहुंचाएगी।

कांग्रेस इन लोकसभा चुनाव की शुरूआत बूथ जीतो-चुनाव जीतों से करने वाली है। इसके लिए जिले के 541 बूथों को मजबूत करने की जिम्मेदारी 70 कद्दावर नेताओं को देने की तैयारी कर रही है। प्रत्येक नेता को 8 से 10 बूथ की जिम्मेदारी दी जाएगी। इन बूथों पर प्रचार-प्रसार से लेकर मतदान कराने और परिणाम आने तक संबंधित पदाधिकारी की जिम्मेदारी होगी।

बूथ के साथ ग्रामीण क्षेत्र के प्रत्येक मतदाता तक पहुंचने के लिए आईटी टीम भी तैयार की जा रही है। इसके लिए जिले की 162 पंचायतों पर एक-एक आईटी एक्सपर्ट तैनात किया जाएगा, जो अपने आस-पास के ग्रामीण क्षेत्रों के मतदाताओं को जोड़ेगे। इतना ही नहीं गांवों में जाकर यह युवाओं की टीम भी तैयार करेंगे। बूथ को मजबूत करने के लिए पुराने अनुभवी 70 पदाधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी जाएगी। प्रत्येक पंचायत पर आईटी एक्सपर्ट नियुक्त होंगे। डोर टू डोर सर्वे और प्रतिदिन फिडबैक लिया जाएगा।