यूपी सरकार का बड़ा फैसला, मथुरा के धार्मिक क्षेत्रों में नहीं बिकेगी शराब

नई दिल्ली (6 जून): यूपी सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए मथुरा के धार्मिक क्षेत्रों में शराब पर पाबंदी लगा दी है। योगी सरकार ने मथुरा के बरसाना, गोकुल, गोवर्धन, नंदगांव, राधाकुंड और बल्देव में शराब बंदी लागू कर दी है।कैबिनेट की मंगलवार को हुई बैठक में इन तीर्थस्थलों को मद्यनिषेध क्षेत्र घोषित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई। धार्मिक स्थलों पर शराबबंदी को लेकर काफी समय से मांग की जा रही थी। इन जगहों पर शराब की दुकानों पर प्रतिबंध सख्ती से लागू किया जाएगा। इन इलाकों में पूरी तरह से शराब पीने और खरीदने पर रोक लगेगी।इन तीर्थ स्थलों की 32 शराब की दुकानों को अब दूसरे इलाकों में ट्रांसफर किया जाएगा। मथुरा जिले के 32 जगहों पर ठेके बंद होने से हर साल सरकार को 11 करोड़ का नुकसान होगा। यूपी सरकार के मुताबिक वृन्दावन नगरपालिका क्षेत्र को पहले ही शराब बंद क्षेत्र घोषित किया गया था। बरसाना को अक्टूबर-2017 में तीर्थ स्थल घोषित किया था, लेकिन बरसाना के इलाकों में पड़ने वाली देशी शराब की दुकानों को नहीं हटाया गया। जिसके बाद नगर निगम घोषित होने पर यह फैसला लिया गया हैं।