News

'नागरिकता उछली, इंडस्ट्री फिसली' लगातार तीसरे महीने घटा इंडस्ट्रीयल प्रोडक्शन!

बेशक, संसद में नागरिकता (Citizenship) खूब उछली (GoesUp), मगर देश की इंडस्ट्री (Industry) फिसलती (Came Down) रही। दो महीनों की गिरावट के बाद अक्टूबर 2019 में भी देश के औद्योगिक उत्पादन (Industrial Production) के आंकडों ने निराश किया है। अक्टूबर में भी औद्योगिक उत्पादन में गिरावट दर्ज की गई है।

Citizenship, Goes up, Industry,  Came Down, Industrial Production

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (12 दिसंबर):बेशक, संसद में नागरिकता (Citizenship) खूब उछली (GoesUp), मगर देश की इंडस्ट्री (Industry) फिसलती (Came Down)रही। दो महीनों की गिरावट के बाद अक्टूबर 2019 में भी देश के औद्योगिक उत्पादन (Industrial Production) के आंकडों ने भी निराश किया है। अगस्त और सितंबर के बाद अक्टूबर में भी औद्योगिक उत्पादन (Industrial Production) के आंकड़ों में गिरावट दर्ज की गई है। अक्टूबर 2019 में औद्योगिक उत्पादन का आंकड़ा 3.8 फ़ीसदी गिर गया यानी पिछले साल की तुलना में इस बार देश में औद्योगिक उत्पादन (Industrial Production) की रफ्तार 3.8 फ़ीसदी धीमी पड़ गई है।

अक्टूबर के आंकड़ों पर गौर करने से पता चलता है कि औद्योगिक उत्पादन के तीनों महत्वपूर्ण घटक खनन, निर्माण और बिजली क्षेत्र में गिरावट आई है। अक्टूबर 2019 में खनन क्षेत्र में अक्टूबर 2018 के मुकाबले 8 फ़ीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। वहीं, निर्माण क्षेत्र में अक्टूबर 2018 के मुकाबले अक्टूबर 2019 में 2.1 फ़ीसदी की गिरावट दर्ज की गई है जबकि बिजली क्षेत्र में बड़ी गिरावट दर्ज की गई है। बिजली क्षेत्र में पिछले साल की तुलना में इस बार 12.2 फ़ीसदी की गिरावट रिकॉर्ड की गई है।

आईआईपी यानी इंडेक्स ऑफ इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन को आसान भाषा में ऐसा समझा जा सकता है कि यह वह सूचकांक है जिससे देश की अर्थव्यवस्था के विभिन्न क्षेत्रों में हो रही बढ़ोतरी दर का आंकलन किया जाता है। इसमें विभिन्न क्षेत्रों जैसे खनन, बिजली उत्पादन और निर्माण आदि में हो रही बढ़ोतरी का आंकलन किया जाता है। इन प्रमुख क्षेत्रों के आंकलन से पता चलता है कि देश में औद्योगिक उत्पादन की रफतार आखिर किस दिशा में और कितनी तेजी से बढ रही है।

इसमें विभिन्न क्षेत्रों के लिए अलग अलग वेटेज दिया जाता है। इस वेटेज के आधार पर हर क्षेत्र के उत्पादन की महीने दर महीने गणना होती है। फिर इस आंकड़े को बीते साल की समान अवधि के मुकाबले देखा जाता है जिससे पता चलता है कि बीते साल की समान अवधि के मुकाबले औद्योगिक उत्पादन में बढ़ोतरी हुई है या गिरावट दर्ज की गई है।

Images Courtesy: Google


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram .

Tags :

Top