कर्नाटक के बाद पश्चिम बंगाल की बारी, 107 विधायक बीजेपी में शामिल होने को तैयार!

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (13 जुलाई): लोक सभा चुनावों में ममता बनर्जी के लिए बड़ी चुनौती बन उभरी भारतीय जनता पार्टी अब पूरी टीएमसी के अस्तितिव विधान सभा में चुनौती देने जा रही है। फिल्हाल, भारतीय जनता पार्टी के नेता मुकुल  रॉय ने शनिवार को एक ऐसा दावा किया है, जिससे पश्चिम बंगाल की सियासत में भारी उथल-पुथल मच गयी है। मीडिया में आ रही खबरों के अनुसार, मुकुल रॉय ने कहा है कि पश्चिम बंगाल में 107 विधायक बीजेपी में शामिल होंगे। उन्होंने दावा किया कि सीपीएम, कांग्रेस और टीएमसी के 107 विधायक बीजेपी में शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि हमारे पास उन विधायकों की लिस्ट तैयार हो गई है और उनसे लगातार संपर्क में हैं।

लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी प्रचंड बहुमत के साथ दोबारा सत्ता पर काबिज हुई थी। बीजेपी ने पश्चिम बंगाल की 42 लोकसभा सीटों में से 18 पर जीत दर्ज की थी। वहीं, तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को 22 सीटों पर जीत हासिल हुई थी। कांग्रेस को दो सीटों पर जीत मिली थी। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के इस किले में सेंध लगाने के लिए बीजेपी कोई भी कोर-कसर छोड़ना नहीं चाहती है। अभी हाल ही में टीएमसी के कई नेताओं ने बीजेपी का दामन थामा था। टीएमसी के नेताओं का बीजेपी में शामिल होने का क्रम लोकसभा चुनाव से पहले ही शुरू हो गया था।  

पश्चिम बंगाल विधान सभा में कुल 294 सीट हैं। इनमें से 210 पर सत्ता रूढ़ टीएमसी काबिज है। अगर मुकुल रॉय की बात को सच माना जाये तो यह ममता बनर्जी के लिए बड़ी चिंता का विषय है। क्यों कि पश्चिम बंगाल विधान सभा में बहुमत के लिए 148 सदस्यों का समर्थन जरूरी है। अगर 107 सदस्य बीजेपी के साथ हैं तो वो ममता बनर्जी के लिए बड़ी दिक्कत पेश आ  सकती है। क्योंकि बीजेपी बाकी 41 सदस्यों का समर्थन हासिल करने और ममता बनर्जी को विश्वास हासिल करने की चुनौती पेश कर सकती है।Image Courtesy: Google