यूपी में ताक पर कानून: बीजेपी पार्षद के समर्थकों ने हाईवे पर दागी गोलियां

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (5 नवंबर): यूपी में कानून तोड़ने को लेकर जैसे कोई होड़ सी मच गई है। कुछ दिन पहले मेरठ के एक होटल में दारोगा के साथ मारपीट के मामले में जेल में बंद स्थानीय बीजेपी पार्षद को जमानत पर लेने जब समर्थक पहुंचे तो हाईवे पर गोलियां दाग दी।यूपी के मेरठ में भाजपा पार्षद मनीष चौधरी का दरोगा सुखपाल को पीटने का मामला अभी ठंडा नहीं पड़ा था कि एक बार फिर से अपनी दबंगई को लेकर भाजपा पार्षद सुर्खियों में आ गए।

दरअसल, दरोगा की पिटाई के मामले में जेल से जमानत पर रिहा हुए भाजपा पार्षद को लेने पहुंचे उसके साथी जश्न के माहौल में ऐसे डूबे कि हाईकोर्ट के आदेश को भी ताक पर रख दिया। हर्ष फायरिंग रोकने को लेकर हाईकोर्ट के सख्त फरमान की धज्जियां उड़ाते हुए भाजपा पार्षद के साथी ने चलती कार में ककंरखेड़ा हाइवे से गुजरते वक्त ताबड़तोड़ हवाई फायरिंग कर दी। वो तो गनीमत रही कि सड़क चलता कोई व्यक्ति गोली का शिकार नहीं बना।

दबंगई और सत्ता की हनक का इससे बड़ा वाक्या और क्या होगा कि भाजपा पार्षद के साथी ने फायरिंग करते हुए अपनी वीडियो और पार्षद के साथ ली हुई तस्वीरों को अपनी फेसबुक आईडी पर भी पोस्ट कर दिया। अब वीडियो वायरल होने के बाद अधिकारी मामले की जांच के बाद आरोपी के खिलाफ कार्यवाही की बात कह रहे हैं। बताते चले कि पिछले दिनों कंकरखेड़ा के होटल में दरोगा सुखपाल सिंह को पीटने के मामले में भाजपा पार्षद मनीष चौधरी को जेल भेजा गया था। यह वीडियो भाजपा पार्षद के जेल से जमानत पर रिहा होने के बाद का बताया जा रहा है। अपने फेसबुक एकाउंट पर वीडियो पोस्ट करने वाला विनय चौधरी नाम का युवक भाजपा पार्षद का बेहद करीबी बताया जा रहा है। एक बैठक में भाग लेने पहुंचे प्रदेश के गन्ना मंत्री सुरेश राणा ने मामले की जानकारी होने से ही मना कर दिया। हालांकि उन्होंने दावा किया है कि योगी जी के शासन में किसी को कानून हाथ में लेने की इजाजत नहीं है।