कश्मीर पर भारत के खिलाफ एकतरफा रिपोर्टिंग कर रहा है अमेरिकी मीडिया- श्रंगला

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (11 सितंबर): भारत सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से ही अमेरिकी मीडिया कश्मीर पर एकतरफा रिपोर्टिंग कर रहा है। अमेरिका में भारत के राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला ने कहा है कि अमेरिकी मीडिया के कुछ वर्ग विशेष रूप से उदारवादी मीडिया कश्मीर के उस पहलू पर ही अपना ध्यान केंद्रित कर रहा हैं जो भारत के खिलाफ हैं।

हर्षवर्धन श्रृंगला ने कहा कि भारत ने पिछले महीने जम्मू-कश्मीर की विशेष स्थिति को समाप्त करने और केंद्र शासित प्रदेशों में इसे समाप्त करने का कदम वहां के लोगों की भलाई को देखते हुए लिया था। एक न्यूज एजेंसी पीटीआई को दिए एक इंटरव्यू में शीर्ष भारतीय राजनयिक ने कि धारा 370 को हटाया गया, जिसने राज्य को विशेष दर्जा दिया था। एक विशेष प्रावधान जो वहां की अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर रहा था और पाकिस्तानी आतंकवाद को बढ़ावा दे रहा था।

श्रृंगला ने आगे कहा, 'दुर्भाग्य से अमेरिका में कुछ मीडिया विशेष रूप से उदारवादी मीडिया ने कुछ विशेष कारणों से कश्मीर पर सिर्फ एक पहलू दिखाने की कोशिश की है, जो उनके मुताबिक है।'

ध्यान रहे, अमेरिका में कश्मीरी पंडितों ने हाल ही में जम्मू-कश्मीर में हुए घटनाक्रमों की एकतरफा खबरें प्रकाशित करने के खिलाफ  'द वाशिंगटन पोस्ट' के कार्यालय के सामने विरोध प्रदर्शन किया था। ऐसा माना जा रहा है कि अमेरिकी मीडिया ट्रंप और मोदी के परस्पर संबंधों के कारण भी कश्मीर पर एकतरफा रिपोर्टिंग कर रहे हैं। क्योंकि ज्यादतर अमेरिकी मीडिया ट्रंप से नाराज है। अमेरिकी मीडिया कोई भी ऐसा मौका नहीं छोड़ना चाहता जिससे वो ट्रंप की खिंचाई न कर सके। 

ध्यान रहे, भारत ने पाकिस्तान सहित उन सभी पक्षों के बेबुनियाद आरोपों का प्रमाण और साक्ष्य के साथ जवाब न केवल संयुक्त राष्ट्र के सामने रखा है बल्कि पूरी दुनिया को बताया है कि कश्मीर में आम लोगों को कोई परेशानी नहीं है लेकिन कुछ लोग पाकिस्तान के हाथ की कठपुतली बने हुए हैं। जो राज्य में अशांति फैलाना चाहते हैं। उन्हीं लोगों पर नियंत्रण करने केलिए कुछ पाबंदियां आयद की गयीं हैं।

Images Courtesy:Google