कांग्रेस को आंखे दिखा रहे हैं अखिलेश, केसीआर से मिलने की बात कही

Photo: Google


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (26 दिसंबर): आगामी लोकसभा चुनावों से पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कांग्रेस को झटका देते हुए फेडरल फ्रंट के साथ जाने की खबर को हवा दे दी है।  मीडिया से बात करते हुए अखिलेश यादव ने कहा है कि वो हैदराबाद जाकर के चंद्रशेखर राव से मिलेंगे। उन्होंने कहा है कि एसपी की मकसद है कि किसी भी तरह से बीजेपी को हराया जाए।

अखिलेश यादव ने कांग्रेस के प्रति नाराजगी को भी जाहिर करते हुए कहा है कि कांग्रेस ने मध्य प्रदेश में हमारे इकलौते विधायक को मंत्री न बनाकर हमारा रास्ता साफ कर दिया है। कांग्रेस को धन्यवाद। उन्होंने कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन जरूर होगा। बीजेपी को सत्ता से हटाने के लिए सभी दलों को एक साथ आना चाहिए। पूर्व सीएम ने कहा कि युवा कुम्भ में रोजगार की बात होती तो अच्छा होता। लखनऊ के लोक भवन में अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा लगाना ठीक है, लेकिन हमारी सरकार आएगी तो हम भी एक मूर्ति लगाएंगे।

तेलंगाना के सीएम केसीआर और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कांग्रेस को दरकिनार कर अखिलेश यादव व बसपा अध्यक्ष मायावती के साथ गठबंधन की कवायद में जुटे हैं। इसके पीछे राहुल गांधी को पीएम पद का उम्मीदवार बताने वाले बयानों को भी देखा जा रहा है। आरजेडी समेत दूसरी पार्टियां कह चुकी हैं कि उन्हें राहुल गांधी के पीएम बनने से कोई गुरेज नहीं है, जबकि ममता का कहना है कि पीएम उम्मीदवार का नाम चुनावों के बाद आए नतीजों के बाद होना चाहिए।

हालांकि राहुल गांधी भी कह चुके हैं कि वह पीएम नहीं बनना चाहते बल्कि उनकी पहली प्राथमिकता बीजेपी सरकार को सत्ता से बाहर करने की है, लेकिन ऐसे में यह माना जा रहा है कि कुछ दल अलग से गठबंधन बनाकर कांग्रेस और बीजेपी दोनों को टक्कर देंगे।