Blog single photo

बैंकों पर पड़ने लगा मंदी का असर, हजारों कर्मचारियों की हो रही है छंटनी

इस बैंक के विश्वसनीय सूत्रों ने बताया कि , 'हम सालों से जानते हैं कि हमें लागत के मोर्चे पर कुछ करने की जरूरत है। कर्मचारी, लागत का एक बड़ा हिस्सा हैं। अब हम इसे समझ रहे हैं।' पिछले महीने बैंक ने अचा

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (7 अक्टूबर): वैश्विक मंदी का असर पूरी दुनिया में दिखना शुरू हो गया है। कंप्यूटर हार्डवेयर बनाने वाली कंपनी एचपी द्वारा 10,000 कर्मचारियों की छंटनी की घोषणा के बाद अब बैंकिंग एवं वित्तीय सेवा कंपनी एचएसबीसी ने भी 10 हजार कर्मचारियों को हटाने का फैसला किया है। बैंक का कहना है कि लागत घटाने के लिए उसे ऐसा करना पड़ रहा है। एक अखबार ने इस बात का खुलासा किया है। इससे पहले, कंपनी के सीईओ ने अपना पद छोड़ दिया था। साथ ही बैंक ने वैश्विक परिदृश्य का हवाला देते हुए 4,000 कर्मचारियों की छंटनी की घोषणा की थी। 'फाइनैंशल टाइम्स' की खबर के अनुसार, हालिया छंटनी ज्यादातर उच्च-वेतन वाले पदों पर होगी। यह कंपनी के नए प्रमुख नोएल क्विन के लागत कम करने के अभियान का हिस्सा है। कंपनी गिरती ब्याज दरों , ब्रेग्जिट और व्यापार युद्ध के प्रभाव को समायोजित करने की प्रक्रिया में हैं।अखबार को इस बैंक के विश्वसनीय सूत्रों ने बताया कि , 'हम सालों से जानते हैं कि हमें लागत के मोर्चे पर कुछ करने की जरूरत है। कर्मचारी, लागत का एक बड़ा हिस्सा हैं। अब हम इसे समझ रहे हैं।' पिछले महीने बैंक ने अचानक समूह के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) जॉन फ्लिन्ट के अपने पद से हटने की घोषणा की थी। वे इस पद पर सिर्फ 18 महीने रहे। हालांकि , बैंक ने इसकी वजह नहीं बताई थी।Images Courtesy: Google

Tags :

NEXT STORY
Top