ट्रंप के फैसले के खिलाफ कोर्ट पहुंची 97 बड़ी कंपनियां

नई दिल्ली ( 6 फरवरी ): अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की सरकार द्वारा अमेरिका में मुस्लिमों पर बैल लगाए जाने के बाद से विवाद बढ़ता ही जा रहा है, हालांकि एक अदालत ने ट्रंप के आदेश को रद्द कर दिया है। अब इस फैसले के खिलाफ दिग्गज कंपनियों ने अदालत का रुख किया है। तकनीकी जगत की दिग्गज कंपनियों माइक्रोसॉफ्ट, फेसबुक, टि्वटर, ऐपल और गूगल समेत सिलिकॉन वैली की करीब 97 कंपनियों ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आदेश के खिलाफ अदालत में याचिका दायर की है और इसे कानून एवं संविधान का ‘उल्लंघन’ बताया है।

अदालत में रविवार को दाखिल किए गए दस्तावेज के मुताबिक 'अमेरिका में प्रवेश करने के नियमों में अचानक किए गए बदलाव से अमेरिकी कंपनियों को बहुत नुकसान पहुंचा है। इस दस्तावेज का समर्थन ट्विटर, नेटफ्लिक्स और ऊबर ने भी किया है। सीएनएनमनी की खबर के मुताबिक यह दस्तावेज रविवार को नाइंथ सर्किट कोर्ट ऑफ अपील्स में दाखिल किया गया।

इस बीच अदालत ने अमेरिकी सरकार द्वारा यात्रा प्रतिबंधों को फिर से लागू करने की याचिका के पक्ष में फैसला देने से इनकार कर दिया है। कंपनियों के इस प्रस्ताव के पक्ष में फेसबुक, ईबे और इंटल के साथ-साथ गैर तकनीकी कंपनी लेवी स्ट्रॉस और चोबानी भी शामिल हैं।