मालेगांव ब्लास्ट के सभी आरोपी बरी, धमाके में 37 लोगों की हुई थी मौत

नई दिल्ली (25 अप्रैल): आठ सितंबर 2006 को टेक्सटाइल सिटी मालेगांव हुए बम धमाकों के सभी 9 आरोपियों को मुंबई की एक कोर्ट ने बरी कर दिया है। 2006 के धमाके के मामले में 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया था और इन्हें सिमी से जुड़ा बताया गया था।

2006 के मालेगांव ब्लास्ट में जिन लोगों को एटीएस ने आरोपी बनाया था उनकी बेगुनाही को लिए एक मुस्लिम ने याचिका दाखिल की थी। मुंबई की विशेष अदालत में 9 साल तक चले इस मामले में अब सभी 9 आरोपियों को बरी कर दिया है।

8 सितंबर 2006 को नासिक जिले के मुस्लिम बहुल मालेगांव के बड़ा कब्रिस्तान, मुशावरत चौक और हमीदिया मस्जिद के पास हुए बम विस्फोट में 37 लोग लोगों की मौत और 130 घायल हुए थे। धमाकों के बाद पकड़े गए कुछ युवकों ने इकबालिया बयान में आरोपियों ने कहा था कि बम धमाकों का मकसद भारत में बड़े पैमाने पर साम्प्रदायिक दंगे कराना था।