इस साल पाक ने 820 बार तोड़ा सीजफायर, सिक्युरिटी फोर्सेस ने 210 आतंकियों को मार गिराया

नई दिल्ली (27 दिसंबर): शैतान पाकिस्तान सुधरने का नाम नहीं ले रहा है। दुनिया के लिए टेरीरिस्तान बन चुका पाकिस्तान हर वक्त भारत के लिए मुश्किलें खड़ी करता रहता है। पिछले शनिवार को पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लखन किया। पाकिस्तान की इस गोलीबारी में एक मेजर समेत 4 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे।

भारत ने पाकिस्तान के इस हिमकत का मुंहतोड़ जवाब दिया और उसके घर में घुसकर अपने चार सैनिकों के शहादत का बदला दिया। भारत ने तकरीबन एक साल बाद फिर से पाकिस्तान में घुसकर उसके तीन सैन्य ठिकाने को नेस्तेनाबूद कर दिया। भारत के इस हमले में 3 पाकिस्तानी सैनिक ढेर हो गए जबकि 5 गंभीर रूप से घायल हो गए। 

बात करें सीजफायर वॉयलेशन की तो इस साल इंटरनेशनल बॉर्डर और लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) पर सीजफायर वॉयलेशन की 820 घटनाएं हुईं। सिक्युरिटी फोर्सेस ने कुल 210 आतंकियों को मार गिराया। आतंकी हमले, सीजफायर तोड़े जाने और घुसपैठ को रोकते वक्त 3 गरुड़ कमांडो समेत आर्मी के कुल 61 जवान शहीद हुए।

बता दें कि पिछले दिनों पाक रेंजर्स की फायरिंग में मेजर समेत 4 जवानों की शहादत के बाद भारतीय सेना ने सोमवार रात PoK में सर्जिकल स्ट्राइक की और 3 पाकिस्तानी सैनिकों को ढेर कर दिया। घाटी से आतंकियों का सफाया करने के लिए भारतीय सेना ऑपरेशन ऑल आउट भी चला रही है।

पाकिस्तान से सटी एलओसी और इंटरनेशनल बॉर्डर पर इस साल (26 दिसंबर तक) सीजफायर तोड़ने की 820 घटनाएं हुईं। सिक्युरिटी फोर्सेस ने जम्मू-कश्मीर में कुल 210 आतंकियों को मार गिराया। इनमें से 72 एलओसी और 148 कश्मीर के अंदरुनी इलाकों में मारे गए।

2017 में एयरफोर्स के 3 गरुड़ कमांडो समेत भारतीय सेना के कुल 61 जवान शहीद हुए। इनमें से 30 ने आतंकियों से लड़ते हुए शहादत हासिल की। 14 जवान पाकिस्तान के सीजफायर वॉयलेशन और 17 को आतंकी घुसपैठ को नाकाम करते वक्त जान गंवानी पड़ी।