'बलात्कारियों के लिए सज़ा-ए-मौत का 80 फीसदी भारतीय करते हैं समर्थन'

नई दिल्ली (25 फरवरी): हाल ही में 'इनशॉर्ट्स यूथ ऑफ द नेशन' की तरफ से एक सर्वे किया गया। जिसमें निष्कर्ष निकाला गया है कि 80 फीसदी भारतीय लोग बलात्कारियों के लिए सज़ा-ए-मौत का समर्थन करते हैं।

'मिड-डे' की रिपोर्ट के मुताबिक, जब लोगों से पूछा गया कि क्या जघन्य अपराधों के लिए ज्यूबेनाइल्स के साथ व्यस्कों के तौर पर व्यवहार किया जाना चाहिए? इसपर 83 फीसदी लोगों ने अपनी राय में सहमति जताई। जबकि, केवल 11 फीसदी ने इसपर असहमति जताई। इसके अलावा 6 फीसदी ने कहा कि उन्हें इस बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है।

इसके अलावा सर्वे में एक और सवाल लोगों से किया गया। उनसे पूछा गया कि क्या वे मानते हैं कि क्या भारत में महिलाएं दूसरे देशों की तुलना में ज्यादा असुरक्षित हैं? इस सवाल पर 43 फीसदी ने अपनी राय में कहा कि वास्तव में भारत दूसरे देशों की तुलना में ज्यादा असुरक्षित है। जबकि, 50 फीसदी लोगों ने इस बात से असहमति जताई। करीब 7 फीसदी ने कहा कि उन्हें इस बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है।