BREAKING: हीराखंड एक्सप्रेस पटरी से उतरी, 23 की मौत, करीब 100 लोग घायल

आंध्र प्रदेश के विजयनगरम जिले के कुनेरू स्टेशन के पास जगदलपुर-भुवनेश्वर हीराखंड एक्सप्रेस का इंजन और 7 डिब्बे पटरी से उतर गए। इस हादसे में 23 लोगों के मौत हो गई और करीब सौ लोग घायल हो गए हैं। अभी खबर है कि कई लोग डिब्बों में फसे हैं और मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। यह हादसा शनिवार की रात को 11 बजे हुआ, जब ट्रेन भुवनेश्वर जा रही थी। ईस्ट कोस्ट रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी जेपी मिश्रा ने बताया, 'कुनेरू स्टेशन के पास ट्रेन नंबर 18448 जगदलपुर-भुवनेश्वर एक्सप्रेस का इंजन और 7 डिब्बे पटरी से उतर गए। इंजन के साथ लगेज वैन, दो सामान्य कोच, दो स्लीपर कोच, एक एसी थ्री कोच और एक सेकंड एसी कोच भी पटरी से उतर गए।'मिश्रा ने बताया, 'घटनास्थल पर मौजूद डॉक्टरों के मुताबिक इस दुर्घटना में 12 लोगों की मौत हो गई है।' जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि हादसे की जानकारी मिलने के तुरंत बाद घटनास्थल के लिए चार रिलीफ वैन रवाना की गईं। अब तक हादसे के कारणों का पता नहीं चल सका है। हालांकि रायगढ़ के सब-कलेक्टर मुरलीधर ने दावा किया, 'इस हादसे में करीब 100 लोग घायल हुए हैं। कई लोग ट्रेन के डिब्बों में फंसे हुए हैं। ऐसे में मृतकों का आंकड़ा अभी बढ़ सकता है।'रेल मंत्रालय की ओर से किए गए ट्वीट्स में बताया गया कि अलग-अलग जगहों से घटनास्थल पर 4 रिलीफ वैन भेजी गई हैं। पहली प्राथमिकता यह है कि जल्द से जल्द घायल लोगों को नजदीक के अस्पताल में पहुंचाया जाए। रेल मंत्री सुरेश प्रभु निजी तौर पर पूरे हालात पर नजर रख रहे हैं। इसके अलावा वरिष्ठ अधिकारियों को भी तत्काल घटनास्थल पर पहुंचने का आदेश दिया गया है और बचाव एवं राहत कार्य को तेज करने को कहा गयै है।

रेलवे ने विशाखापत्तनम से पांच हेल्प लाइन नंबर जारी किया है- 83003, 83005, 83006, BSNL LAND LINE NO. 0891-2746344, 0891-2746330।

गौरतलब है कि इससे पहले काठगोदाम से जैसलमेर आ रहीं रानीखेत एक्सप्रेस 15014 के दस डिब्बे शनिवार रात थयात हमीरा और जैसलमेर स्टेशन के बीच पटरी से उतर गये। हादसे में किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई। ट्रेन के सभी यात्रियों को अन्य टेन से जैसलमेर भेज दिया गया। उत्तर पष्चिम रेलवे के प्रवक्ता तरूण जैन के अनुसार ट्रेन के दस डिब्बे पटरी से उतर गये। इन डिब्बों में एक सौ से अधिक यात्री थे। कोई भी यात्री हताहत नहीं हुआ।