मलेशिया में 7,000 हिंदुओं को 'गलती से' दर्ज किया गया मुस्लिम!

नई दिल्ली (24 फरवरी): मलेशिया में गैर-सरकारी संस्थाओं की एक टास्क फोर्स का कहना है कि देश (मलेशिया) में रहने वाले करीब 7,000 हिंदुओं को सरकारी दस्तावेजों में 'गलती से' मुस्लिमों के तौर पर दर्ज किया गया है। 

'बिज़नेस स्टैंडर्ड' की रिपोर्ट के मुताबिक, टास्क फोर्स का कहना है कि मलेशिया के 7,000 हिंदुओं को नेशनल आइडैंटिटी कार्ड्स में मुस्लिम दर्ज किया गया है। मलेशिया हिंदू संगम के अध्यक्ष मोहन शान ने 'मलेशियन इन्साइडर' को बताया कि यह समस्या पूरे मलेशिया में फैली हुई है। जो हिंदू धर्म का पालन करने वाले ज्यादातर उन हिंदुओं से जुड़ी है। जो निम्न आय वाले वर्ग से संबंधित हैं और उन्हें मुस्लिम दर्ज किया गया है।

इस टास्क फोर्स में 8 हिंदू गैर-सरकारी संगठन शामिल हैं। जिसका कहना है, वे 500 हिंदुओं की मदद कर रहे हैं। जबकि, अन्य 7,000 लोगों पर व्यवस्था के असफल होने के कारण प्रभाव पड़ रहा है। जिसके कारण जो भी अपना आधिकारिक धार्मिक स्टेटस इस्लाम से बदलना चाहता है, उन्हें दिक्कत हो रही है। क्योंकि उन्हें पहले शरिया कोर्ट की तरफ से अनुमति लेनी पड़ती है।

उन्होंने बताया कि 7,000 मामलों में वे भी शामिल हैं जो कन्वर्ट पैरेंट की तरफ से पीढ़ियों पहले से मुस्लिमों के तौर पर दर्ज हैं। जबकि, कुछ मामले मंत्रालय की गड़बड़ी के चलते गलत दर्ज हैं।