सहेली को बचाने के लिये इस आदमखोर से भिड़ गयी बच्ची

नई दिल्ली (5 अप्रैल):  उड़ीसाके  केंद्रपारा जिले में एक छह साल की बच्ची ने बहादुरी का परिचय देते हुए दोस्त को बचाने के लिए मगरमच्छ से भिड़ गई। इस बच्ची की बहादुरी के सामने मगरमच्छ हार गया और वह अपनी दोस्त को बचाने में कामयाब हो गई। बहादुरी की मिसाल पेश करने वाली बच्ची का नाम टिकी है, वह दलाई बनकुआला गांव में पढ़ती है। फिलहाल वह पहली क्लास में पढ़ती है। मगरमच्छ से लड़ते हुए घायल हो गई इस बच्ची का इलाज सरकारी अस्पताल में चल रहा है। पीड़िता के हाथ और जांघ में कई जगह पर घाव है। फिलहाल वह खतरे से बाहर है।


बताया जा रहा है कि दोनों बच्चियां  गांव के तलाब में नहाने गईं थीं। इसी दौरान तलाब में एक मगरमच्छ आ गया और उसने अचानक बसंती पर हमला कर दिया। हालांकि बसंती की दोस्त टिकी ने हिम्मत दिखाते हुए छड़ी से मगरमच्छ के सिर पर वार किया। अचानक हुए इस वार से मगरमच्छ हैरान रह गया और उसने बसंती को तुरंत छोड़ दिया। लड़की को छोड़ने के बाद मगरमच्छ वापस पानी में चला गया। वन विभाग ने दोनों बच्चियों को पुरस्कृत करने और उनके इलाज का खर्च उठाने का ऐलान किया है।  दोनों बच्चियों के बहादुरी के चर्चे पूरे इलाके में हो रहे हैं।