अफगान सीमा पर पाक सेना पर हमला, 6 सैनिकों की मौत

नई दिल्ली (7 मार्च): पाकिस्तानी सेना के अफगान सीमा पार कथित आतंकियों के ठिकानों पर हमले के जवाब में कुछ बंदूकधारियों ने के पश्चिमोत्तर कबायली क्षेत्र में पाकिस्तानी सीमा चौकियों को निशाना बनाया जिनमें छह सैनिक मारे गए। इसके बाद पाकिस्तान ने विरोध दर्ज कराने के लिए एक शीर्ष अफगान राजनयिक को तलब किया। पाकिस्तानी सेना के मुताबिक अत्याधुनिक हथियारों से लैस बंदूकधारियों ने अफगानिस्तान से लगने वाली सीमा पर मोहमंद और खैबर कबायली क्षेत्र की सीमा चौकियों पर हमला किया।पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने कहा, बंदूकधारियों ने रात में सीमा पार कर मोहमंद में तीन चौकियों पर आकर हमले का प्रयास किया।' गफूर ने कहा, 'प्रभावी मौजूदगी, सतर्कता और प्रतिक्रिया ने आतंकवादियों के प्रयास नाकाम कर दिए।

 इस दौरान हुई गोलीबारी में पांच सैनिक मारे गये। इधर, पाकिस्तानी तालिबान से अलग हुए गुट जमात-उल-अहरार ने हमलों के लिए जिम्मेदारी ली है। पाकिस्तान ने अफगानिस्तान के समक्ष विरोध दर्ज कराया और उससे आग्रह किया कि वह इन घटनाओं की गहन जांच कराए और अपनी सरजमीन से गतिविधियां चलाने वालों के खिलाफ दृढ़ कार्रवाई करे। जकरिया ने कहा, 'अफगान के मिशन उप प्रमुख को आज इस घटना पर पाकिस्तान की गहरी चिंता से अवगत कराने के लिए तलब किया गया था।' उन्होंने कहा, 'इस बात पर भी जोर दिया गया कि अफगानिस्तान की तरफ से प्रभावी सीमा प्रबंधन के लिए सहयोग महत्वपूर्ण है जिससे सीमापार आतंकवादियों की आवाजाही को रोका जा सके।' पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने कहा, 'प्रभावी सीमा सुरक्षा के लिए जरुरी है कि अफगानिस्तान की तरफ से भी हमारी तरह पर्याप्त बलों की मौजूदगी हो।'