6 घंटे में कैसे बहुमत जुटाएंगे येदियुरप्पा?