राम रहीम के छह 'कमांडो' हथियार, पेट्रोल केन के साथ गिरफ्तार

नई दिल्ली ( 25 अगस्त ): साध्वी रेप मामले में शुक्रवार को पंचकूला सीबीआई कोर्ट ने राम रहीम को दोषी करार दिया। इस फैसले के बाद से पंचकूला समेत हरियाणा के अन्य जिलों में हिंसा फैल गई। पंचकूला में डेरा समर्थकों ने जमकर उत्पात मचाया। समर्थकों ने मीडिया की और स्थानीय लोगों की कई गाड़ियों में आग लगा दी।

इस मामले चंडीगढ़ के डीजीपी तेजिंदर सिंह लूथरा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और बताया कि डेरा प्रमुख की पर्सनल सिक्योरिटी से 6 लोगों(कमांडों) को हिरासत में लिया गया है। पुलिस ने इनके कब्जे से एक पिस्टल, 25 जिंदा कारतूस और पेट्रोल कैन बरामद किए हैं।

डीजीपी ने बताया कि चंडीगढ़ में गुरुवार से ही सभी बॉर्डस को सील कर दिया था। वहीं डीजीपी ने बताया कि हमनें 83 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है। इस सभी समर्थकों को बर्न इंजरी है और हमें शक है कि इन सभी का पंचकूला में हिंसा फैलाने का हाथ है।

डीजीपी ने बताया चंडीगढ़ में किसी तरह का कोई जान माल का नुकसान नहीं हुआ। चंडीगढ़ में किसी भी डेरा समर्थक को रुकने की इजाजत नहीं दी जाएगी। उन्होंने बताया कि ये जबरदस्ती चंडीगढ़ में घुसना चाहते थे जिसके चलते पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार कर लिया है।